दयाशंकर की गिरफ्तारी नहीं होगी, बीजेपी-एसपी की मिलीभगत : मायावती

नई दिल्ली (27 जुलाई) : बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने आज राज्यसभा में उत्तर प्रदेश की अखिलेश यादव सरकार पर गंभीर आरोप लगाया।

मायावती ने कहा कि बीजेपी के पूर्व नेता दयाशंकर सिंह के बयान की सर्वत्र निंदा हुई थी लेकिन लगता है कि बीजेपी उसे बचा रही है। मायावती के मुताबिक बीजेपी और समाजवादी पार्टी की यूपी में मिलीभगत है। इस मुद्दे पर दोनों पार्टियां ड्रामा कर रही हैं।

मायावती ने कहा कि मैं समझती हूं कि दयाशंकर की गिरफ्तारी नहीं होगी। मैं बीजेपी से पूछना चाहती हूं कि वो एक महिला के सम्मान के लिए क्यों नहीं कदम उठा रही है। 

मायावती ने कहा... > झारखंड में बीजेपी की सरकार है। दयाशंकर को एक मंदिर में देखा गया है, इससे साफ है कि बीजेपी दयाशंकर को बचाने में जुटी है। उन्होंने कहा कि इसमें एसपी-बीजेपी की मिलीभगत है, अगर ऐसा नहीं है कि वहां की पुलिस की गिरफ्तार करे। > उन्होंने कहा कि गौरक्षा के नाम पर मुसलमानों को परेशान किया जा रहा है।  > मायावती ने कहा कि अखलाक के मामले में भी सपा और भाजपा मिली हुई है। अखलाक के परिवार वालों को परेशान किया जा रहा है।