बोलीं मायावती, सीएम योगी का दलितों के साथ भोज, एक सियासी नाटकबाजी

नई दिल्ली ( 15 जून ): बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के कल दलितों के साथ भोजन करने पर निशाना साधा है। मायावती ने कहा कि सीएम योगी के दलितों के साथ भोजन को राजनीतिक नाटकबाजी करार देते हुए गुरुवार को कहा कि इससे भाजपा का दलित विरोधी चेहरा नहीं बदलेगा।

मायावती ने मुख्यमंत्री तथा कुछ अन्य वरिष्ठ नेताओं द्वारा कल गोरखपुर के कैम्पियरगंज में दलित समाज के लोगों के साथ भोजन किये जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस राजनीतिक नाटकबाजी और बनावटी कामों से भाजपा का वर्षों पुराना दलित एवं पिछड़ा विरोधी चाल, चरित्र तथा चेहरा नहीं बदलने वाला।

उन्होंने कहा कि खासकर दलितों के मामले में राज्य की भाजपा सरकार की नीयत तथा नीति में अगर थोड़ी भी सच्चाई होती तो सहारनपुर का जातिय दंगा कभी भी इतना गंभीर रुप धारण नहीं करता और ना ही वहां दलितों पर जुल्म-ज्यादती अभी तक जारी रहती।

मायावती ने कहा कि सहारनपुर जातिय संघर्ष के मुख्य दोषियों को अभी तक गिरफ्तार नहीं करना तथा दंगा पीड़ितों को न्याय नहीं दिला पाना इस बात का प्रमाण है कि प्रदेश सरकार का दलित-विरोधी रवैया पूरे देश में अन्य भाजपा सरकारों की तरह जातिय, द्वेषपूर्ण तथा अन्यायपूर्ण है।