कर्नाटक का नाटकः मायावती ने अपने इकलौते विधायक से कहा-सुनो सबकी लेकिन वोट... उस ही को देना!

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 जुलाई): कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस सरकार रहेगी या जाएगी, इस पर सोमवार को विधानसभा में फैसला हो सकता है। सत्तारूढ़ दल को बहुमत साबित करने के लिए विधायकों की दरकार है। इस बीच बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने अपने एक विधायक से कहा है कि वे कुमारस्वामी सरकार को अपना समर्थन दें।

मायावती ने आज ट्वीट कर कहा, ''बीएसपी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती जी ने कर्नाटक में अपने बीएसपी के विधायक को सीएम कुमारस्वामी की सरकार के समर्थन में वोट देने हेतु निर्देशित किया है।'' कांग्रेस जेडीएस गठबंधन सरकार से 18 विधायक समर्थन वापस ले चुके हैं। इन 18 विधायकों में से 16 कांग्रेस जेडीएस के हैं और दो निर्दलीय हैं। 16 विधायकों ने अपने पद से इस्तीफा दिया है।सोमवार को कुमारस्वामी विधानसभा में बहुमत परीक्षण का सामना कर सकते हैं। इससे पहले गुरुवार और शुक्रवार को विश्वास मत प्रस्ताव पर हंगामे के बीच बहस हुई। लेकिन वोटिंग नहीं हुआ। राज्यपाल वजुभाई वाला ने दो बार पत्र लिखकर समयसीमा के भीतर वोटिंग के लिए कहा। कुमारस्वामी और कांग्रेस ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट का रूख कर आरोप लगाया था कि राज्यपाल ने उस वक्त विधानसभा की कार्यवाही में हस्तक्षेप किया, जब विश्वास मत पर चर्चा चल रही थी।

विश्वास प्रस्ताव पर मतदान की प्रक्रिया को सत्तारूढ़ गठबंधन द्वारा पूरा करने में की जा रही देर को बागी विधायकों को कांग्रेस-जद(एस) के मनाने की आखिरी पल तक की जा रही कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है। इस सिलसिले में कोशिशें की गई हैं लेकिन इसका कुछ ज्यादा लाभ अब तक नहीं मिल पाया है क्योंकि बागी विधायकों का दावा है कि उनमें से 13 एकजुट हैं और अपने इस्तीफे पर दृढ़ हैं तथा उनके लौटने का सवाल ही नहीं उठता है। इस बीच, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने रविवार को भरोसा जताया कि सोमवार को  कुमारस्वामी सरकार का आखिरी दिन होगा।

Images Courtesy:Google