मथुरा कांड: डीएम का खुलासा, नहीं दी गई पर्याप्त फोर्स

प्रशांत देव, मथुरा (4 जून): मथुरा में एक सरकारी बाग को खाली कराने में 24 लोगों की जान चली गई। बीजेपी ने आरोप लगाया कि सत्ताधारी दल के संरक्षण की वजह से पार्क पर कब्जा हुआ था। आज खुलासा हुआ है कि जब डीएम ने पार्क खाली कराने की कोशिश की गई तो उन्हें पर्याप्त पुलिस फोर्स ही मुहैया नहीं कराई गई थी।

डीएम ने कोर्ट में ये बयान पार्क खाली कराने के लिए दायर की गई पीआईएल पर सुनवाई के दौरान दिया था। बता दें कि मथुरा में गुरुवार को सरकारी जमीन से अवैध कब्जा हटाने पहुंची पुलिस टीम पर भीड़ ने हमला बोल दिया था। इसमें एक एसपी और एक एसओ समेत 24 लोगों की मौत हो गई थी।

ऑपरेशन होने के वक्त एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी और उनकी टीम ने जवाहरबाग की दीवार गिरा दी थी। इसके बाद पेड़ पर चढ़े अवैध कब्‍जाधारकों ने जबरदस्‍त फायरिंग शुरू कर दी थी। इसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए और एसओ संतोष यादव की आंख से होती हुई गोली सिर के पार हो गई। इससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई थी। पुलिसकर्मी एसओ को उठाकर जैसे ही पीछे हटे, वहां बड़ी संख्‍या में हमलावर दौड़ते हुए आ गए। इसके बाद उन लोगों ने एसपी द्विवेदी को लाठी से पीटना शुरू कर दिया था।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=4Dep95FgckQ[/embed]