ओरलैंडो शूटर मतीन दो बार गया था सऊदी अरब, खर्चीली यात्रा सवालों के घेरे में

नई दिल्ली (16 जून) : ओरलैंडो शूटर उमर मतीन की दो बार सऊदी अरब की यात्राएं सवालों के घेरे में हैं। इनमें से एक यात्रा के दौरान तो मतीन ने आलीशान जगहों पर रहने-खाने की सुविधाओं का लाभ उठाया। फॉक्स न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक विशेषज्ञों का मानना है कि मतीन की आर्थिक स्थिति से इस तरह की खर्चीली यात्रा मेल नहीं खाती। विशेषज्ञों के मुताबिक ये यात्रा आंतकवाद के प्रशिक्षण के कवर अप से जुड़ी हो सकती है।   

रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिकी संघीय जांच ब्यूरो (एबीआई) मतीन की कट्टरपंथी जड़ों और सऊदी अरब की यात्राओं को उसके बढ़ते धार्मिक रुझान से जोड़ कर देख रहा है। मतीन ने 2011 और 2012 में अपनी सऊदी अरब की यात्राओं का कारण उमरा बताया था। रिपोर्ट के मुताबिक एक या दोनों यात्राओं में मतीन साइड ट्रिप पर भी गया था। विशेषज्ञों का कहना है कि लगातार दो साल मतीन का उमरा के लिए सऊदी अरब जाना कुछ अलग सा लगता है। वो भी उस वक्त जब इस तरह की पहली यात्रा के समय वो सिर्फ 24 साल का था।

न्यूयॉर्क स्थित रिसर्च इंस्टीट्यूट कलेरियॉन प्रोजेक्ट के राष्ट्रीय सुरक्षा विश्लेषक रियान मॉरो का कहना है कि ये किसी के लिए संभव है कि वो सऊदी अरब जैसे देश की यात्रा पर जाए और इसे अपना गंतव्य बताए जबकि वास्तव में वो यमन जैसे अलग देश में भी थोड़ी देर रुक सकता है।

सऊदी अरब के आतंरिक मंत्रालय के प्रवक्ता ने पुष्टि की है कि मतीन ने उमरा के लिए दो बार सऊदी अरब की यात्रा की थी। एक यात्रा के दौरान वो संयुक्त अरब अमीरात भी गया था। प्रवक्ता ने साथ ही कहा कि सऊदी अधिकारियों के पास ऐसा कोई रिकॉर्ड नहीं है जिससे पता चलता हो कि सऊदी अरब की किसी यात्रा के दौरान मतीन चरमपंथियों से संपर्क के लिए यमन भी गया था।

मतीन 2011 में सऊदी अरब की 10 दिन की यात्रा पर गया था। 2012 में मतीन ने 8 दिन की सऊदी अरब की यात्रा की। 2011 में मतीन की यात्रा अमेरिका स्थित इस्लामिक ट्रेवल एजेंसी दार अल सलाम की बुकिंग के ज़रिए हुई थी। इस पैकेज पर आम तौर पर 4000 डॉलर का खर्च आता है।  इसमें मक्का में 4 रात और मदीना में 6 रात के लिए 4 स्टार सुविधाओं के साथ रहना और खाना शामिल होता है।

बता दें कि 29 वर्षीय मतीन ने रविवार तड़के ओरलैंडो में पल्स नाइट क्लब में अंधाधुंध गोलीबारी कर 49 लोगों की हत्या और 53 को घायल कर दिया था। बाद में उसे सुरक्षा अधिकारियों ने मार गिराया था।