अब मसूद अजहर की खैर नहीं, जल्द घोषित होगा अंतरराष्ट्रीय आतंकी

नई दिल्ली (30 अक्टूबर): भारत एक तरफ जहां सरहद पर पाकिस्तान की शैतानी हरकतों का मुंहतोड़ जवाब दे रहा है। वहीं भारत पाकिस्तान को पूरी दुनिया में अलग-थलग करने में जुटा है। आतंकी और उनके आकाओं को सरपरस्ती देने वाले पाकिस्तान की आने वाले दिनों में मुस्किलें और बढ़ने वाली है। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने उम्मीद जताई है कि जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को इस साल के अंत तक अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर दिया जाएगा। एक निजी चैनल से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कराने के लिए भारत गंभीरता से काम कर रहा है और सभी विकल्पों पर भी विचार कर रहा है। अकबरूद्दीन ने उम्मीद जताई है कि सदस्य देशों की सहयोग से भारत अपने लक्ष्य को हासिल करेगा। 

आपको बता दें कि पठानकोट में हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने इस साल रेजोल्यूशन 1267 के तहत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित करने का प्रस्ताव रखा था। चीन ने इसमें अड़ंगा लगा दिया था। पाकिस्तान के दवाब में चीन इस मसले पर लगातार दो बार अड़ंगा डाल चुका है।  इस साल दिसंबर में चीन की तरफ से लगाई गई रोक खत्म हो जाएगी। चीन को इस मसले पर या तो सहयोगी देशों का समर्थन करना होगा या फिर वो इस रेजोल्यूशन को ब्लॉक करने के लिए अपनी वीटो पावर का इस्तेमाल कर सकता है। हालांकि भारत को उम्मीद है मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने के मसले पर इसबार चीन के रूख में बदलाव होगा और वो अड़ंगा नहीं डालेगा।