मसूद ने कहा, ' पाक सरकार उनके इशारे पर काम कर रही है जो हमारे नहीं'

इस्‍लामाबाद (14 जनवरी): आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के मुखिया मौलाना मसूद अजहर का कहना है कि पाकिस्तान सरकार को हमारे जज्बातों की कद्र नहीं है। पाकिस्तान के बारे में हमारी ख्वाहिश है कि यहां शांति रहे। ये खुद को बचाने की कोशिश नहीं है, बल्कि इसी में इस मुस्लिम देश की भलाई है।

पाकिस्तान को धमकी देते हुए मसूद ने कहा कि मस्जिदों, मदरसों और जिहाद के खिलाफ जो कार्रवाई की जा रही है, वो देश की यूनिटी और इन्टेग्रिटी के लिए खतरा है। जैश-ए-मोहम्मद के ऑनलाइन माउथपीस ‘अल कलाम’ में ‘सईदी’ के नाम से जारी अजहर के बयान में बताया कि वह मरने या गिरफ्तार होने की फिक्र नहीं करता। मेरी मौत के बाद दोस्त और दुश्मन दोनों मुझे याद नहीं करेंगे, लेकिन मैं मौत को पसंद करने वाली आर्मी तैयार कर चुका हूं। अल्लाह की इच्छा से मेरी आर्मी दुश्मनों को ज्यादा दिन खुश रहने का मौका नहीं देगी। ऐसी कोई ख्वाहिश नहीं है जो अधूरी रह गई हो। फैमिली का ध्यान अल्लाह आज भी रखता है, आगे भी रखेगा।

पाकिस्तान सरकार का मजाक उड़ाते हुए अजहर ने लिखा, भारत से बहुत आवाजें आ रही हैं। कहा जा रहा है कि हमें मार डालो या गिरफ्तार करो। हमारी सरकार शायद उनकी दोस्ती के ऑफर से परेशान है। वो वाजपेयी और मोदी के दोस्त नजर आना चाहते हैं। बयान के मुताबिक, अजहर का मानना है सरकार उन लोगों के इशारों पर काम कर रही है, जो हमारे हैं ही नहीं। ये सभी लोग पाकिस्तान को बारूद के ढेर पर बैठाने और आग में झोंकने के बाद भाग जाएंगे।