विटारा ब्रेज़ा ने आते ही दी फोर्ड ईकोस्पोर्ट को कड़ी टक्कर, बिक्री के मामले में हुई आगे

कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट में विटारा ब्रेज़ा के असर को लेकर जो कयास लग रहे थे वो सही साबित होते दिख रहे हैं। मार्च-2016 के बिक्री के आंकड़े बताते हैं कि विटारा ब्रेज़ा लॉन्च होते ही ईकोस्पोर्ट को कड़ी टक्कर देने लगी है। इस दौरान फोर्ड ने 4,456 ईकोस्पोर्ट बेचीं, वहीं विटारा ब्रेज़ा के मामले में यह आंकड़ा 5,563 यूनिट का था।

इन आंकड़ों से पता चलता है कि कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट में मारूति का यह दांव सफल रहा है। ब्रेज़ा के आने से पहले यहां महिन्द्रा टीयूवी-300 भी अच्छा प्रदर्शन कर रही थी लेकिन दबदबा ईकोस्पोर्ट का ही था। ब्रेज़ा के आने के बाद इस सेगमेंट के समीकरण बदलने लगे हैं। फोर्ड ने ब्रेज़ा के लॉन्च के कुछ दिन के अंदर ही ईकोस्पोर्ट की कीमतें एक लाख रूपए से भी ज्यादा तक घटा दीं मगर यह कदम भी ग्राहकों को ब्रेज़ा से दूर नहीं रख पाया।

ईकोस्पोर्ट फोर्ड की भारत में सबसे लोकप्रिय कार है और लॉन्च के साथ ही अच्छा प्रदर्शन करती आई है। इसकी कीमतें घटाना भी कंपनी के लिए सफल कदम रहा है। कीमतें घटने के बाद इसकी बिक्री पहले के मुकाबले 70 फीसदी तक बढ़ी है। मगर फिर भी यह ब्रेज़ा से पिछड़ ही गई।

वैसे देखा जाए तो ब्रेज़ा अभी आई है और ईकोस्पोर्ट यहां लंबे वक्त से मौजूद है। ऐसे में ब्रेज़ा लंबे वक्त में कितनी सफल साबित होगी और मुकाबले में मौजूद कारों को कहां तक टक्कर दे पाएगी इसके लिए ग्राहकों के लंबे अनुभव और उनकी प्रतिक्रियाओं का इंतजार करना होगा। लेकिन इतना जरूर है कि शुरुआत में ही यह इस सगमेंट और ग्राहकों पर अच्छी छाप छोड़ने में सफल रही है।

कारदेखो

विटारा ब्रेज़ा ने आते ही दी फोर्ड ईकोस्पोर्ट को कड़ी टक्कर, बिक्री के मामले में हुई आगे