शहादत को सलाम, शहीद राम अवतार के परिवार को 1 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद देगी शिवराज सरकार

भोपाल (5 फरवरी): पाकिस्तान की ओर से किए रविवार को राजौरी के नौशेरा सेक्टर में गए सीजफायर उल्लंघन में भारतीय सेना के एक कैप्टन और 3 जवान शहीद हो गए। पाकिस्तान की शैतानी हरकत से देशभर में गुस्सा है और लोग गमगीन है। शहीद होने वाले में मध्यप्रदेश के ग्वालियर के बरौआ गांव के रहने वाले राम अवतार भी शामिल थे। पूरा देश जहां राम अवतार की शाहादत को नम आंखों से नमन कर रहा है वहीं मध्यप्रदेश सरकार ने शहीद राम अवतार के परिवार को हर मुमकिन मदद का भरोसा दिया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ऐलान किया है कि राम अवतार के परिवार को राज्य सरकार की ओर से 1 करोड़ रुपये की आर्थिक मदद और ग्वालियर में एक फ्लैट दिया जाएगा। साथ ही उनके मातापिता को 5 हजार रुपये पेंशन भी दिया जाएगा। इतनी नहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ग्वालियर में शहीद राम अवतार की प्रतिमा लगाने का भी ऐलान किया है। राम अवतार के परिवार में बुजूर्ग माता-पिता के साथ पत्नी रचना, पुत्र दिवांश और 3 महीने की बेटी है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान की ओर से की गई गोलीबारी में राम अवतार के साथ हरियाणा के गुडगांव जिले के रहने वाले कैप्टन कपिल कुंडू,  रोशन लाल (42) और जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले के रहने वाले शुभम सिंह (23) भी शहीद हुए थे।