शहीद की पत्नी बोली- खत्म करो पाकिस्तान को

नई दिल्ली(29 अक्टूबर): जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर के माछिल में मंदीप सिंह जवान शहीद हो गए। शहादत के बाद जवान मंदीप सिंह के पार्थिव शरीर के साथ आतंकियों ने बर्बरता की। शहीद मंदीप की पत्नी ने कहा है कि सरकार से निवेदन है कि या तो पाकिस्तान को समझा दो, समझे तो ठीक वरना खत्म कर दो। कम से कम रोज रोज दिवाली काली नहीं होगी सभी की। 

- शहीद मंदीप सिंह हरियाणा के कुरुक्षेत्र के रहनेवाले थे। दिवाली से ठीक पहले बेटे की शहादत की खबर मिलते ही पूरे परिवार में मातम पसर गया। साल 2008 में शहीद मंदीप सिंह सेना में भर्ती हुए थे। महज 27 साल की उम्र में मंदीप देश पर कुर्बान हो गए।

- मंदीप सिंह तकरीबन छह महीने पहले छुट्टी बिता कर गए थे और दीवाली पर उन्हें फिर से छुट्टियों पर आना था लेकिन सरहद पर तनाव के चलते उसकी छुट्टियां रद्द हो गईं थी।

- मंदीप की पत्नी प्रेरणा शाहाबाद महिला पुलिस थाने में कार्यरत हैं। दो भाइयों में मनदीप छोटे थे। परिजन इस दुखद समाचार से सदमे में हैं। मंदीप के भाई विजय सिंह ने बताया कि रात 12 बजे के बाद चंडीगढ़ से तीन अधिकारी आए थे उन्होंने बताया कि मनदीप सिंह शहीद हो गए है।

- बता दें कि जम्मू-कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे आर एस पुरा और कठुआ सेक्टरों में पाक सेना ने आतंकियों के साथ बीएसएफ के जवानों पर हमला किया जिसमें मंदीप सिंह शहीद हो गए थे।