शहीद हेमराज का भाई बोला- आतंकियों का सिर भी काटकर लाती सेना

लखनऊ (30 सितंबर): शहीद लांस नायक हेमराज सिंह का परिवार भी PoK में हुई सर्जिकल स्ट्राइक से खुश है। लेकिन हेमराज के भाई के दिल में एक कसक है कि जब हमला किया ही था तो आतंकियों का सिर भी काटकर ले आना चाहिए था।

बता दें, 2013 में आतंकियों ने हेमराज पर हमला किया था और उनका सिर काटकर साथ ले गए थे। मुझे भी भर्ती करा दो सेना में... - हेमराज के भाई वीरेंद्र ने कहा, 'अगर भारतीय सैनिक उन आतंकियों के सिर भी ले आते तो हमारे परिवार के कलेजे में ठंडक पड़ जाती।' - 'मेरी भी दिली ख्वाहिश है कि मैं भी सिपाही बनकर आतंकियों से लोहा ले सकूं।' - वीरेंद्र ने बताया, 'कांग्रेस की सरकार जवाब देना नहीं जानती थी, लेकिन मोदी जी ने बता दिया कि कैसे आतंकियों को जवाब दिया जाना है।' - शहीद हेमराज के चाचा हरिकिशन सिंह ने कहा, 'अब जब भी बॉर्डर पार करो तो आतंकियों के सिर जरूर लेकर आना।' - 'पाकिस्तान को सबक सिखाना जरूरी है। मेरे परिवार में आने वाली पीढ़ि‍यां शहादत देने को तैयार हैं। 'हेमराज की मूर्ति के लिए प्रशासन गंभीर नहीं' - वीरेंद्र के मुताबिक, 'हेमराज की शहादत के बाद परिवार को कोई नहीं पूछता। हालात ऐसे हैं कि कोई अधिकारी मिलने के लिए समय भी नहीं देता है।' - 'उनकी बेरुखी का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि हेमराज की मूर्ति तो लगा दी, लेकिन उस पर अब गंदगी साफ करने वाला कोई नहीं है।' - 'जिस जगह मूर्ति लगाई गई, वहां बाउंड्रीवॉल तक नहीं है। इस संबंध में कई बार अधिकारियों और मंत्रियों से मिला, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।'