पीएम के सुझाव पर काम करेगा रेलवे, अब स्टेशनों पर भी होंगी शादी

नई दिल्ली (18 दिसंबर): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सुझाव पर काम करते हुए रेलवे ने अपनी आमदनी बढ़ाने के लिए करीब 200 स्टेशनों को शादी-विवाह जैसे मौकों के लिए किराए पर देने की योजना बना रहा है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रेल मंत्रालय तैयारी कर रहा है कि रेलवे स्टेशनों की खाली जगह को शादी-विवाह जैसे जलसों के लिए किराए पर दिया जाए। इसके लिए रेलवे ने देश भर में 7000 से ज्यादा स्टेशनों का आंकड़ा जुटाया है, इनमें से 200 स्टेशन ऐसे हैं जहां पर 24 घंटे में एक-दो ट्रेन ही आती हैं।

इन स्टेशन पर प्लेटफॉर्म के अलावा काफी जगह होती हैं। साथ ही यहां बिजली और पानी की भी सुविधा होती है। इनमें से ज्यादातर स्टेशन ग्रामीण इलाकों में है। सूत्रों के मुताबिक स्टेशनों पर बैंड बाजा बारात का आइडिया नवंबर में बुलाए गए रेल विकास शिविर में प्रधानमंत्री ने खुद दिया था। प्रधानमंत्री का सुझाव था कि कम आवागमन वाले रेलवे स्टेशनों को इस तरह से इस्तेमाल में लाया जाए, जिससे आम जनता को तो फायदा हो ही साथ ही रेलवे की आमदनी भी बढ़े।

प्रधानमंत्री के सुझाव को हकीकत में तब्दील करने में रेल मंत्रालय जुट गया है। स्टेशनों पर दी जाने वाली जगह का किराया तय करने समेत सुरक्षा वगैरह से जुड़े नियम तय किए जा रहे हैं। एक बार जब ये नियम बन जाएंगे तो अभी तक आप रेलवे स्टेशन पर बतौर यात्री जाते हैं, बहुत जल्द बाराती बनकर जाने के लिए तैयार हो जाइए।