शेयर बाजार में हाहाकार, चार दिनों में निवेशकों के 5.6 लाख करोड़ स्वाहा

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 सितंबर): इस कारोबारी हफ्ते का आख‍िरी दिन यानी शुक्रवार बाजार के लिए ब्लैक फ्राइडे साबित हुआ है। सेंसेक्स 1000 से भी ज्यादा अंक गिरकर धड़ाम हो गया। निफ्टी ने भी गोता खाया और यह 11000 के नीचे आ गया। शेयर बाजार में आई इतनी बड़ी गिरावट के लिए एक अफवाह जिम्मेदार थी। हालांक‍ि बाद में बाजार थोड़ा रिकवर जरूर हुआ। शेयर बाजारों में लगातार चौथे दिन गिरावट से निवेशकों को 5.6 लाख करोड़ रुपए का झटका लगा है।  

बाजार में तीव्र उतार-चढ़ाव के बीच सेंसेक्स अंत में 279.62 अंक या 0.75 प्रतिशत की गिरावट के साथ 36,841.60 अंक पर बंद हुआ। कुल मिलाकर पिछले चार दिन में सेंसेक्स 1,249.04 अंक टूटा है। कमजोर धारणा के साथ बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 5,66,187.15 करोड़ रुपए घटकर 1,50,70,832 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। 

बंबई शेयर बाजार में 2,106 शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी और 586 में तेजी रही। वहीं 148 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ। सेंसेक्स के 30 शेयरों में से यस बैंक की अगुवाई में 17 शेयर नुकसान में रहे। यस बैंक 28.701 प्रतिशत नीचे आया। रिजर्व बैंक द्वारा संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी राणा कपूर को जनवरी के अंत तक पद छोड़ने के लिए कहने के बाद शुक्रवार को यस बैंक का शेयर 29.5 प्रतिशत गिर गया।

बंबई शेयर बाजार (बीएसई) में कंपनी का शेयर 28.71 प्रतिशत गिरकर 227.05 रुपए पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह एक समय 34 प्रतिशत गिरकर 52 सप्ताह के निचले स्तर 210.10 रुपए पर आ गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी का शेयर 29.46 प्रतिशत गिरकर 225.15 रुपए पर आ गया। बीएसई में यस बैंक का मूल्यांकन 21,029.99 करोड़ रुपए कम होकर 52,406.01 करोड़ रुपए पर आ गया। यस बैंक सेंसेक्स की कंपनियों में सर्वाधिक गिरावट में रहा।