कैनबरा में हार के बाद लाइव टीवी पर धोनी की बेईज्जती

वैभव भोला (21 जनवरी): शायद ही इससे पहले कभी किसी कमेंटेटर ने किसी भी टीम के कप्तान से इस तरह का सवाल पूछा हो। भारत के सबसे सफल कप्तान कहे जाने वाले धोनी की इससे ज्यादा कोई और बेइज्जती क्या हो सकती है। अब आप सोच रहे होंगे कि ये पूरा माजरा है क्या और हम क्यों इसे टीम इंडिया के कैप्टन कूल की सबसे बड़ी बेइज्जती कह रहे हैं।

कैनबरा में जीता हुआ मैच गंवाने के बाद मैच प्रेसेंटेशन में धोनी ने बड़ी शान से पूर्व क्रिकेटर और स्पोर्ट्स कमेंटेटर मार्क निकोल्स को कहा कि हम इन सभी हारों से सीख रहे हैं। धोनी तो सीखने वाली बात बोलकर पतली गली से निकलना चाह रहे थे, लेकिन स्पोर्ट्स कमेंटेटर मार्क निकोल्स के इस सवाल ने धोनी की पानी पानी कर दिया। क्योंकि धोनी का बयान खत्म ही नहीं हुआ तो उससे पहले ही मार्क ने धोनी से पूछ लिया कि क्या आप सारी जिंदगी सीखते ही रहेंगे या फिर कभी मैच भी जीतेंगे।

मार्क का ये सवाल इस बात को पूरी तरह से साफ कर रहा है कि हर बार हार के बाद धोनी कोई ना कोई बहाना बनाते हैं। खुद की नाकामी को छिपाने के लिए ऐसे बहाने बनाते हैं, लेकिन पहली बार किसी ने धोनी को लाइव टीवी पर एक्सपोस किया है।

आईए आपको आंकड़ों के जरिए ये समझाने कि कोशिश करते हैं कि पिछले कुछ सालों में कैसे धोनी की खराब फॉर्म टीम इंडिया पर भारी पड़ रही है:

जनवरी 2014 से धोनी की कप्तानी में भारत ने 36 वनडे खेले हैं जिसमें से 19 में हार और 15 में जीत मिली है। 2015 वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल हारने के बाद धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने लगातार तीसरी वनडे सीरीज हारी है। पहले बांग्लादेश ने 2-1 से पीटा, द.अफ्रीका ने 3-2 से हराया और अब 5 मैचों की सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने 4-0 की अजेय बढ़त बना ली है। लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत जो पिछले 55 मैच हारा है उसमें बतौर बल्लेबाज धोनी की औसत सिर्फ 27.74 रही है।

ये आंकड़े देखकर एक बात तो पूरी तरह से साफ है कि अब बतौर बल्लेबाज और कप्तान धोनी इस टीम पर बोझ बन गए हैं। एक समय भारतीय क्रिकेट पर राज करने वाला ये कप्तान प्रेसेंटेशन में ऐया बयान देने के अलावा अब इस टीम का कोई भला नहीं कर पा रहा है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 23 जनवरी को होने वाले वनडे मैच के बाद भारत को अगले 4 से 5 महीने कोई भी वनडे मैच नहीं खेलना है और ये पूरी उम्मीद है कि इस वनडे के बाद कैप्टन कूल आपको बतौर वनडे कप्तान शायद ही कभी नजर आएं। क्योंकि धोनी की कप्तानी में मिल रही लगातार हार से BCCI भी परेशान है और इस कप्तान के ऊपर से अपना हाथ उठाने का पूरा मन बना चुकी है।

देखिए पूरी रिपोर्ट:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=gVSaIyscRqI[/embed]