News

बीमारी से मर गया 1.40 करोड़ का इनामी रमन्ना, माओवादी नेता विकल्प ने की पुष्टि

लंबी चुप्पी के बाद अपने बड़े माओवादी नेता (maoist leader) और दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी के सचिव रमन्ना उर्फ रावला (naxalite ramanna) श्रीनिवास की मौत की पुष्टि नक्सलियों ने कर दी है। विकल्प ने बताया कि गंभीर बीमारी के बाद रमन्ना (ramanna) की 7 दिसंबर को रात 10 बजे तेलंगाना और छत्तीसगढ़ की सीमा पर किसी अज्ञात स्थान पर मौत हो गई।

ramanna

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (13 दिसंबर): लंबी चुप्पी के बाद अपने बड़े माओवादी नेता (maoist leader) और दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी के सचिव रमन्ना उर्फ रावला (naxalite ramanna) श्रीनिवास की मौत की पुष्टि नक्सलियों ने कर दी है। विकल्प ने बताया कि गंभीर बीमारी के बाद रमन्ना (ramanna) की 7 दिसंबर को रात 10 बजे तेलंगाना और छत्तीसगढ़ की सीमा पर किसी अज्ञात स्थान पर मौत हो गई। गौरतलब है कि इससे पहले नक्सल (maoist)  कमांडर रमन्ना  (ramanna) की मौत पर सस्पेंस बना हुआ था। पुलिस और खुफिया एजेंसियों के पास यह सूचना थी कि तेलंगाना से सटे बीजापुर जिले के जंगल में रमन्ना का अंतिम संस्कार किया गया लेकिन नक्सली इस मामले में चुप्पी साधे हुए थे।

रमन्ना  (ramanna) अप्रैल 2010 में हुई अब तक की सबसे बड़ी नक्सल वारदात ताड़मेटला कांड का मास्टरमाइंड (master mind) था। इसी घटना ने देश का ध्यान बस्तर की नक्सल (maoist समस्या की ओर खींचा था। ताड़मेटला में सीआरपीएफ के 76 जवान मारे गए थे। रमन्ना की बीमारी से मौत की खबर के बाद बीते कई दिनों से छत्तीसगढ़ व तेलंगाना पुलिस इसकी पुष्टि के लिए परेशान दिखी और नक्सली इसकी पुष्टि भी नहीं कर रहे थे। लेकिन आज खुद नक्सली नेता विकल्प ने रमन्ना की मौत की पुष्टि कर दी।

तेलंगाना के वारंगल जिले के रमन्ना उर्फ रावुलू श्रीनिवास ने 15 साल की उम्र में हथियार उठा लिया था। तभी से वह दक्षिण बस्तर के सुकमा व बीजापुर जिले के बीच के जंगलों में सक्रिय रहा। छह अप्रैल 2010 को सुकमा जिले के ताड़मेटला में उसने सीआरपीएफ की एक कंपनी पर हमला किया जिसमें 76 जवानों की मौत हो गई। 2005 से अब तक उस इलाके में हुई लगभग सभी बड़ी वारदातों का मास्टरमाइंड उसे माना जाता था। आंध्र, ओडिशा, तेलंगाना, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र राज्य सरकारों ने उस पर कुल ढाई करोड़ से ज्यादा का इनाम रखा था।

रमन्ना (ramanna) इतना शातिर है कि पुलिस उसकी कोई हालिया तस्वीर तक हासिल नहीं कर पाई है। रमन्ना की मौत की खबरों के बाद रमन्ना की वही तस्वीर सामने आई जो बेदह पुरानी है। रमन्ना पर घोषित इनाम के साथ पुलिस इसी तस्वीर का इश्तहार जारी करती है पर वह पकड़ में नहीं आता। जबकि बस्तर में ही उस पर 40 लाख रुपए का नगद इनाम घोषित है।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top