Blog single photo

आज से कई नियमों में बदलाव, आपकी जेब पर पड़ेगा सीधा असर

आज एक दिसंबर (1 December) है और आज से देशभर में कई नियमों (New Rules) में बदलाव होने जा रहा है। इस बदलाव का आपकी जेब पर सीधा असर पड़ेगा। इन नियमों के चलते कहीं राहत तो कहीं जेब पर बोझ भी बढ़ेगा।

Mumbai

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (1 दिसंबर): आज एक दिसंबर (1 December) है और आज से देशभर में कई नियमों  (New Rules) में बदलाव होने जा रहा है। इस बदलाव का आपकी जेब पर सीधा असर पड़ेगा। इन नियमों के चलते कहीं राहत तो कहीं जेब पर बोझ भी बढ़ेगा। यह नियम  (New Rules) चाहे इंश्योरेंस से जुड़ा हो या पेंशन से लेकिन असर पड़ना तय है। सबसे पहले डिजिटल भुगतान (Digital Payment) करने वालों के लिए खुशखबरी है। ऑनलाइन ट्रंजेक्शन करने वाले उपभोक्ता आज (1 December)  से नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (NEFT) सुविधा का लाभ सातों दिन और 24 घंटे उठा सकेंगे। अभी सभी कार्य दिवस पर सुबह आठ बजे से शाम सात बजे तक ही एनईएफटी (NEFT) हो सकती है। साथ ही जनवरी से इस पर कोई शुल्क भी नहीं लगेगा। उम्मीद है कि इससे देश में रिटेल पेमेंट सिस्टम में क्रांतिकारी बदलाव आएगा।

new rules

आईडीबीआई बैंक (IDBI BANK) के एटीएम से जुड़े नियमों में भी बदलाव एक दिसंबर (1 December)  2019 से होगा। आईडीबीआई बैंक (IDBI BANK) के ग्राहक अगर किसी दूसरे बैंक के एटीएम से लेन-देन करता है और कम बैलेंस के कारण लेन-देन फेल हो जाता है तो उसे 20 रुपए प्रति ट्रांजेक्शन देना होगा। 

Mumbai- 1

वहीं लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) 1 दिसंबर (1 December)  2019 से कंपनी अपने प्लानंस और प्रपोसल फॉर्म में बड़े का ऐलान किया है। बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (इरडा) के नए दिशा-निर्देशों के मुताबिक, अब आपकी जीवन बीमा पॉलिसी (LIC) का प्रीमियम 15 फीसदी तक महंगा हो सकता है। हालांकि, नए नियमों का असर एक दिसंबर 2019 से पहले बेची गई पॉलिसी पर नहीं पड़ेगा। साथ ही बीमा पॉलिसी के बीच में बंद होने के पांच साल के भीतर उसे अब रिन्यू भी करा सकेंगे, अभी इसकी अवधि दो साल है।

वहीं आज से मोबाइल (Mobile) बिल भी महंगा हो सकता है, क्योंकि टेलिकॉम कंपनियां टैरिफ बढ़ाने के संकेत पहले ही दे चुकी हैं। माना जा रहा है कि 1 दिसंबर से मोबाइल (Mobile) पर बात और डेटा का इस्तेमाल महंगा हो जाएगा। दरअसल, भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया 1 दिसंबर 2019 से अपने टैरिफ प्लान में बढ़ोतरी करने जा रही हैं। एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (एजीआर) के भारी भरकम बकाए को भरने के लिए दोनों कंपनियां ऐसा करने पर विचार कर रही हैं। हालांकि, दोनों कंपनियों ने अभी यह नहीं साफ किया है कि वह मोबाइल (Mobile) टैरिफ कितना महंगा करेंगी। 

फास्टैग (Fastag) नि:शुल्क नहीं- इस दिन से फास्टैग नि:शुल्क नहीं मिल पाएगा। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के फ्री फास्टैग के ऑफर की डेडलाइन खत्म हो जाएगी। टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों के लिए फास्टैग अनिवार्यता की अंतिम तिथि 1 दिसंबर (1 December)  से बढ़ाकर 15 दिसंबर (15 December)  कर दी गई है।

(Image Credit: Google)

Tags :

NEXT STORY
Top