परिवार की सहमती के बाद 'गे' बने वाजपेयी

मुंबई (20 फरवरी): अभी तक बॉलीवुड में जो नहीं हुआ वह इस बार होने वाला है। हालांकि मनोज वाजपेयी का यह रूप आपको फिल्म अलीगढ़ में देखने को मिलेगा। इसमें वो समलिंगी प्रोफेसर श्रीनिवास रामचंद्र सिरस का किरदार निभाने रहे हैं।

अभिनेता मनोज वाजपेयी का कहना है कि उनके इस किरदार को निभाने पर उनके परिवार को कोई ऐतराज नहीं था, क्योंकि वे उनसे प्यार करते हैं और उनकी आलोचना नहीं करते। मैंने फैमिली की सहमति के बाद ही 'गे' बनने के लिए राजी हुआ हूं।

इस किरदार को स्वीकार करने के फैसले पर परिवार की प्रतिक्रिया के बारे में पूछे जाने पर मनोज ने कहा, 'पहली बात यह है कि उन्हें उनके अभिनेता बनने पर कोई ऐतराज नहीं था और दूसरी बात कि उन्हें इस बात से भी कोई परेशानी नहीं थी कि वह पारंपरिक भूमिकाएं नहीं निभाएंगे। फिर उन्हें मेरे इस किरदार को निभाने को लेकर समस्या क्यों होगी?

वाजपेयी ने कहा, 'वे मुझसे प्यार करते हैं और मेरी आलोचना नहीं करते। मेरा अपने परिवार के साथ बेहद खूबसूरत रिश्ता है। मैंने मेरी वाइफ नेहा से भी इस रोल के बारे में बताया था, उन्हें भी मेरे 'गे' बनने में कोई प्रॉब्लम नहीं हुई।'