'लेडी सिंघम' के नाम से कांपते हैं अपराधी, बनी लखनऊ की पहली महिला SSP

लखनऊ (17 मई): लेडी सिंघम के नाम से मशहूर मंजिल सैनी को लखनऊ की पहली महिला एसएसपी बनने का गौरव हासिल हुआ है। मंजिल सैनी इससे पहले छह से ज्यादा जिलों की जिम्मेदारी संभाल चुकी हैं। उनके नाम मात्र से ही अपराधी खौफ खाते हैं। उनका तबादला यूपी में हुए 62 आईपीएस अफसरों के तबादले के तहत हुआ है। सीएम कार्यालय ने ट्वीट कर मंजिल के तबादले की जानकारी दी है। 

कौन है लेडी सिंघम
दिल्ली में जन्मी लेडी सिंघम मंजिल सैनी की पढ़ाई भी दिल्ली में ही हुई है। उन्होंने दिल्ली के सेंट स्टीफेंस कॉलेज से ग्रेजुएशन किया। इसके बाद उन्होंने दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से मास्टर्स की पढ़ाई की। उनकी शादी दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से पढ़ाई कर चुके जसपाल दहेल से हुई। उनके दो बच्चे, एक बेटा और एक बेटी है।

मंजिल सैनी 2005 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं। लखनऊ से पहले मंजिल सैनी ने इटावा, मथुरा, बदायूं, मुजफ्फरनगर और मुरादाबाद समेत छह से अधिक जिलों की कमान संभाली है और वहां लॉ एंड ऑर्डर को दुरुस्त करने का काम किया है।  

कैसे पड़ा नाम
मंजिल सैनी ने गुड़गांव के बहुचर्चित किडनी रैकेट का भंडाफोड़ किया था, जिसके बाद मीडिया में उन्हें लेडी सिंघम के नाम से पुकारा गया। उन्होंने सीएम अखिलेश के गृह स्थान इटावा में भी एक सपा विधायक को कानून का पाठ पढ़ाया था। इसके बाद चारों तरफ उनकी चर्चा हुई थी। खुद सीएम अखिलेश यादव और सपा प्रमुख मुलायम सिंह  यादव उनके काम की तारीफ कर चुके हैं।