मनीष सिसोदिया से ACB ऑफिस में पूछताछ, कहा- हजम नहीं हो रहा हमारा काम

नई दिल्ली ( 14 अक्टूबर ) :  डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया शुक्रवार को पूछताछ के लिए एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) के ऑफिस पहुंचे। मामला दिल्ली महिला आयोग (DCW) में कथित भर्ती घोटाले से जुड़ा है। सिसोदिया ने कहा कि हम दिल्ली की जनता के लिए काम कर रहे हैं, लेकिन यह कुछ लोगों को हजम नहीं हो रहा। इसलिए ये सब हो रहा है। हम जवाब देने के लिए तैयार हैं। - दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल से भी पूछताछ हो चुकी है।  मालीवाल को कुछ सवालों की लिस्ट सौंपी गई थी। - एसीबी ने सिसोदिया को कथित भर्ती घोटाले की जांच के सिलसिले में 14 अक्टूबर को पेश होने के लिए नोटिस दिया था। - DCW की पूर्व चीफ की शिकायत पर दर्ज हुई FIR।   - दिल्ली DCW की पूर्व चीफ बरखा शुक्ला सिंह की शिकायत पर FIR दर्ज हुई। इसमें सीएम केजरीवाल और मालीवाल का नाम है। - केजरीवाल ने इसे साजिश बताकर भंडाफोड़ करने की बात की थी। उनका आरोप था कि नरेंद्र मोदी के इशारे पर केस दर्ज हुआ। - दिल्ली सरकार ने 30 सितंबर को असेंबली का स्पेशल सेशन बुलाया था, लेकिन केजरीवाल ने इस दौरान कोई ब्यौरा नहीं दिया।

क्या है पूरा मामला? - DCW की पूर्व चीफ की शिकायत के आधार पर एसीबी ने जांच शुरू की। आरोप है कि आप के कई सपोटर्स को DCW में पद दिया गया। - बरखा सिंह ने कंपलेंट में 85 लोगों का नाम दिया है। उनका दावा है कि सभी भर्तियों में नियमों की धज्जियां उड़ाई गईं। - मालीवाल ने आरोपों पर कहा था कि महिला आयोग में आए मामलों की संख्या को देखते हुए स्टाफ की जरूरत थी। - तब उन्होंने कहा, कि आयोग में 9 साल के कार्यकाल के दौरान बरखा सिंह ने सिर्फ एक मामले का निपटारा किया। करीब 50 अफसरों की टीम होने के बाद भी सिर्फ 6 दौरे किए थे।