मणिपुरी लड़की से अफसर ने पूछा, पक्का इंडियन हो

नई दिल्ली(11 जुलाई): दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट मणिपुर की लड़की के साथ हुए भेदभाव पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरन रिजिजू ने बयान दिया है। किरन रिजिजू ने कहा कि दिल्ली एयरपोर्ट के इमिग्रेशन डेस्क पर मणिपुर की महिला के साथ नस्लभेद की रिपोर्ट मिली है, हमने ब्यौरा मांगा है। 

बता दें पूर्वोत्तर राज्यों के लोगों के साथ भेदभाव अभी भी जारी है। सरकार व पुलिस प्रशासन के तमाम सकारात्मक प्रयास के बावजूद मणिपुर की एक लड़की पर नस्लीय टिप्पणी करने का मामला सामने आया है। 

युवती ने आईजीआई एयरपोर्ट के एक इमिग्रेशन अफसर की नस्लीय टिप्पणी को फेसबुक पर पोस्ट किया है। उनके इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर जबर्दस्त समर्थन मिल रहा है। लोगों का कहना है कि इस मामले में आरोपी अफसर के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। इस मसले पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से भी दखल देने की मांग की गई है।

वहीं पूरे मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया है। 

क्या है पूरा मामला

मणिपुर की मोनिका ने पोस्ट में बताया है कि घटना शनिवार रात करीब 9 बजे टी-3 की है। वह दिल्ली से सोल जाने के लिए इमिग्रेशन डेस्क पर पहुंचीं। वहां एक अफसर ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया।मणिपुर से किन-किन राज्यों की सीमा लगी है? और इस दौरान दूसरे काउंटर पर खड़ी महिला हंस रही थी। उन्होंने अफसर से कहा भी कि वह लेट हो रही हैं, उन्हें जाने दिया जाए। इसके जवाब में अफसर ने कहा कि एयरक्राफ्ट आपको छोड़कर कहीं नहीं जा रहा है, आराम से जवाब दीजिए।

युवती ने अफसर से रिक्वेस्ट की कि वह मणिपुर की हैं और सोल में एक कॉन्फ्रेंस में भाग लेने जा रही हैं। अफसर ने उनकी एक न सुनी। अफसर की इन गतिविधियों से उनके पास वाले काउंटर पर खड़ी एक महिला ने उनकी खिल्ली भी उड़ाई। अंत में लड़की ने पोस्ट के जरिए लोगों से यह पूछा है कि क्या उन्हें इसकी शिकायत करनी चाहिए? इसके जवाब में तमाम लोगों ने यही कहा है कि उन्हें इसकी शिकायत करनी चाहिए।

मोनिका की इस पोस्ट को अब तक करीब डेढ़ हजार लोग लाइक कर चुके हैं, और 500 से ज्यादा लोग इसे शेयर कर चुके हैं। उनकी इस पोस्ट को मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली। कई लोगों ने उनको सपॉर्ट किया तो कुछ ने कहा कि यह रेसिजम नहीं है। इसके जवाब में मोनिका ने दूसरी फेसबुक पोस्ट भी लिखी, जिसमें उन्होंने ऊपर दिए सवालों का फिर से जिक्र किया। उनकी दूसरी पोस्ट की भी अच्छा-खासा रेस्पॉन्स मिल रहा है। फिलहाल, वह 15 दिनों के लिए सोल में हैं। वापस आकर ही वह कोई कदम उठाएंगी।