मानेसर जमीन घोटाले में ED का हरियाणा और दिल्ली में 10 जगहों पर छापा

नई दिल्ली ( 26 मई ): जमीन घोटाले के आरोपों में हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुडा की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। पिछले हफ्ते सीबीआइ की नौ घंटे की पूछताछ के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने इस मामले में 10 स्थानों पर छापा मारा है। ईडी इस मामले में मनी लांड्रिंग की जांच कर रही है। दो आईएएस अधिकारियों और कुछ सरकारी बाबुओं समेत कुळ आठ लोगों के ठिकानों पर ईडी ने छापा मारा है।

आरोप है कि भूपेंद्र सिंह हूडा के मुख्यमंत्री रहने के दौरान मानेसर समेत तीन गांवों में जमीन अधिग्रहण का नोटिस जारी कर और फिर उसे वापस लेकर किसानों को करोड़ों रुपये का चूना लगाया गया था। मानेसर के किसानों की जमीन धोखाधड़ी और सरकारी अधिकारियों की मिलीभगत से हड़पने का आरोप है।

सीबीआइ की एफआइआर के बाद ईडी ने पिछले साल इस मामले की मनी लांड्रिंग रोकथाम कानून के तहत जांच शुरू की थी। ईडी ने गुरूवार को हरियाणा और दिल्ली में कुल 10 स्थानों पर छापा मारा। ईडी के निशाने पर मानेसर समेत तीन गांवों में किसानों को डराकर सस्ती जमीन खरीदने वाले बिल्डरों के अलावा जमीन अधिग्रहण का नोटिस जारी करने और फिर वापस लेने वाले अधिकारी भी शामिल हैं।