गर्भवती महिलाओं भ्रूण जांच हो, बताया जाए शिशु का लिंग- मेनका गांधी

जयपुर (2 फरवरी): केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने देश में कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए अलग तरह का सुझाव दिया है। मेनका के मुताबिक हर गर्भवती महिला का रजिस्ट्रेशन किया जाए और महिला को उसी समय लिंग की जांच कर ये बता दिए जाए कि गर्भ में बेटा है या बेटी। इससे गर्भ में पल रहे बच्चे की ठीक से निगरानी हो सकेगा। मेनका ने ये सुझाव सरकार को भेज दिया है। मेनका ने ये बातें जयपुर में कही।

महिलाओं के सेलफोन में होगा पैनिक बटन केंद्रीय महिला बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा है कि महिलाओं के सेलफोन में पेनिक बटन उपलब्ध करवाया जाएगा। अगर कोई महिला अपने आप को खतरे में महसूस करती है तो इस बटन के दबाते ही नजदीकी पुलिस स्टेशन में इसका मैसेज चला जाएगा।

उन्होंने यह जानकारी जयपुर में पीआईबी की ओर से आयोजित अखिल भारतीय क्षेत्रीय संपादक सम्मेलन के पहले दिन सत्र को संबोधित करते हुए दी। उन्होंने बताया-गांवों में बाल विवाह रोकने के लिए सरकार स्पेशल पुलिस वालंटियर स्कीम लाई जाएगी। इसमें गांव में 21 साल या इससे ज्यादा उम्र की महिला जो कम से कम 12वीं पढ़ी हो को वालंटियर बनाया जाएगा। यह वालंटियर गांवों में बाल विवाह रोकने, महिलाओं का शोषण रोकने के लिए पुलिस से संपर्क में रहेगी। इस काम की एवज में इन वालेंटियर्स को थाने आने जाने और मोबाइल फोन के बिल का पैसा दिया जाएगा।