सिजेरियन ऑपरेशन पर भड़कीं मेनका, कहा- नाम बताकर डॉक्टरों को किया जाए शर्मिंदा

नई दिल्ली (23 फरवरी):  केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा है कि बगैर किसी ठोस मेडिकल वजह के सिजेरियन ऑपरेशन करने वाले डॉक्टरों के नाम जारी कर उन्हें शर्मिंदा करना चाहिए। मेनका ने इस मुद्दे पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा को भी चिट्ठी लिखी है। 

आपको बता दें कि अस्पतालों में सिजेरियन ऑपरेशन की संख्या में लगातार वृद्धि देखी जा रही है। चिकित्सकों पर ऐसे आरोप लग रहे हैं कि वे पैसा कमाने के लिए जानबूझकर सिजेरियन ऑपरेशन की सलाह देते हैं।

मेनका गांधी ने स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा से खत लिखकर अनुरोध किया है कि वह अस्पतालों के लिए यह अनिवार्य बनाएं कि वे सिजेरियन ऑपरेशन यानी सी-सेक्शन के जरिए पैदा होने वाले बच्चों के जन्मदर की जानकारी दें। 

प्राकृतिक तरीके से बच्चे पैदा होने देने की बजाय सर्जरी से बच्चे पैदा करने की तरफ महिलाओं को धकेल कर लाभ कमाने वाले अस्पतालों और डॉक्टरों के खिलाफ 'चेंज डॉट ओआरजी' की एक अर्जी के जवाब में मेनका ने यह बात कही। इस अर्जी पर अब तक 1.3 लाख लोग दस्तखत कर चुके हैं।