मेनका गांधी ने की सोनिया की तारीफ, बताया ऐसे रोकें करप्शन

नई दिल्ली(25 अप्रैल): महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने अपनी जेठानी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की तारीफ की है। एक कार्यक्रम के दौरान मेनका ने अपने संसदीय क्षेत्र पीलीभीत के अफसरों को सोनिया की मिसाल देते हुए बताया कि शिक्षा विभाग में करप्शन को कैसे रोका जाए। 

शनिवार को पीलीभीत में मेनका गांधी डिस्ट्रिक्ट विजिलेंस कमेटी के प्रोग्राम में स्पीच दे रही थीं। इसी दौरान एक अफसर ने कहा कि उसे करप्ट ब्यूरोक्रेट्स के खिलाफ एक्शन लेने की अथॉरिटी नहीं है। अफसर की इस शिकायत के बाद मेनका ने सोनिया गांधी के एक कदम की मिसाल दी। उन्होंने बताया कि कैसे सोनिया ने अपने नाम का गलत इस्तेमाल होने से एक शख्स को रोका था।

मेनका ने कहा, सोनिया गांधी के एक रिश्तेदार ने दुकान खोली और लोगों से उसकी दुकान से सामान खरीदने को कहा क्योंकि वह सोनिया का रिश्तेदार था। मेनका ने आगे बताया कि जैसे ही यह बात सोनिया को पता लगी तो उन्होंने अखबारों में इश्तेहार जारी कर लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे उस शख्स की दुकान पर न जाएं।

यह मसला स्कूलों में चल रहे करप्शन को रोकने के मुद्दे पर विचार के दौरान उठा। शिकायत ये थी कि कुछ स्कूल जिनके पास जूनियर क्लासेस चलाने की ही परमिशन है वो सीनियर लेवल की क्लासेस चला रहे हैं। मेनका ने एक अफसर से पूछा कि वो उन बाबुओं के खिलाफ क्या एक्शन ले रहे हैं जो रिश्वत लेकर इस तरह की परमिशन जारी कर देते हैं। 

मंत्री के सवाल पर अफसर ने कहा कि उसके पास रिश्वतखोर बाबुओं के खिलाफ एक्शन लेने की अथॉरिटी ही नहीं है। इसके बाद मेनका ने सोनिया गांधी के कदम की मिसाल दी। उन्होंने अफसरों को नसीहत देते हुए कहा कि उन्हें भी इसी तरह से काम करना चाहिए।  मेनका ने अफसरों से कहा कि उन्हें अपने ऑफिसों में सीसीटीवी कैमरे इंस्टॉल कराने चाहिए।