हिमाचल में 2 बसों पर गिरा पहाड़, वालों की संख्या बढ़कर हुई 48

मंडी (14 अगस्त): हिमाचल प्रदेश में मंडी-पठानकोट राष्ट्रीय राजमार्ग पर बादल फटने के कारण हुए भीषण भूस्खलन से दो बसों जमींदोज हो गईं। हादसे में अब तक 48 लोगों की मौत की खबर है। मौत का आंकड़ा और भी बढ़ सकता है। एक बस मनाली से कटरा और दूसरी मनाली से चम्बा जा रही थी। बताया जा रहा है कि बीती रात ये बसें जब कोटरूपी में चाय नाश्ते के लिए रूकी थी। तभी ये हादसा हो गया।

प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने घटनास्थल पर पहुंचकर राहत अभियान का जायजा लिया। राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों को पांच लाख रूपये अनुग्रह राशि देने की घोषणा की। डीपीआरओ( शिमला) ने बताया कि मुख्यमंत्री ने घटना के शिकार लोगों के परिवारों से भी मुलाकात की और हर संभव सहायता का आश्वासन दिया है। राज्य सरकार घायल यात्रियों के उपचार का खर्च वहन करेगी।

भूस्खलन में पूरा मार्ग बह गया और बसें करीब 800 मीटर गहरी खाई में जा गिरीं जिनमें से एक बस मलबे के नीचे पूरी तरह से दब गई हैं और इसका कोई अता पता नहीं है। इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि हिमाचल के मंडी जिले में भूस्खलन की घटना से दुख हुआ। मेरी संवेदना पीड़ित परिवारों के साथ है। भगवान से प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द स्वस्थ हों।