बिहार: सुशासन बाबू के राज में जंगलराज जारी, पटना में युवक की गोली मारकर हत्या

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 14 अक्टूबर ): बिहार में सुशासन बाबू की राज में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। राज्य में जंगलराज जारी है और हत्याओं का जारी दौर रुक नहीं रहा है। बेखौफ अपराधी लगभग रोजाना हत्या जैसी वारदात को अंजाम दे रहे हैं। अपराधियों पर नकेल कसने और कानून व्यवस्था के मामले में नीतीश सरकार फेल नजर आ रही है। राजधानी पटना में भी अपराध कम होने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा घटना शनिवार शाम की है जब अपराधियों ने खाजेकलां इलाके में एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी।

घटना शाम तकरीबन 7:30 बजे की है जब खाजेकला थाना क्षेत्र के जल्ला गली स्थित कोल्ड स्टोरेज के पास 4 अपराधियों ने युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना के तुरंत बाद स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नालंदा मेडिकल कॉलेज भेज दिया जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। जिस वक्त पुलिस मौके पर पहुंची युवक का शरीर खून से लथपथ था जिससे इस बात का अंदेशा जताया जा रहा है कि अपराधियों ने बंदूक सटाकर उसे गोली मारी। घटनास्थल से पुलिस को 12 खाली खोखे और एक जिंदा कारतूस भी मिला है। पुलिस ने युवक की हत्या मामले में प्राथमिकी दर्ज कर लिया है और उसकी पहचान के लिए जांच जारी है।

इससे पहले मुजफ्फरपुर में हार्डवेयर व्यापारी की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई थी। मुजफ्फरपुर में ही पूर्व मेयर समीर कुमार और सहयोगी को अपराधियों ने AK-47 से भून दिया था जिसमें उनकी मौत हो गई थी। पटना में अपहृत एक डॉक्टर के बेटे सत्यम की अपहरणकर्ताओं ने हत्या कर दी थी। अपहरण करने वालों ने रिहाई के बदले 50 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी। बेगूसराय में भी बेलगाम अपराधियों ने एक होम ट्यूटर की गोली मार की हत्या कर दी थी।

शेखपुरा के रियरी प्रखंड के कसार गांव स्थित बिहार ग्रामीण बैंक के मैनेजर जयवर्धन कुमार का बदमाशों ने अपहरण के हत्या कर दिया था। राजधानी पटना के नौबतपुर में बदमाशों ने एक किसान को गोलियों से भून दिया था।

बता दें कि राज्य के मुंगेर जिले में 20 एके-47 भी मिली थी जिसके बाद हड़कंप मच गया था। बिहार में जंगलराज लौट चुका है। अपराधी बेलगाम गो गए हैं और नीतीश सरकार इन पर रोक लगाने में फेल नजर आ रही है।