SHOCKING : फेसबुक पर महिला ने फ्रैंड रिक्वेस्ट मंज़ूर नहीं की तो...

मुंबई (16 जून) : एक महिला एस्ट्रोलॉजर की फोटो के साथ छेड़छाड़ कर ऑनलाइन करने और फिर रकम ऐंठने की कोशिश करने के आरोप में एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है। मिडडे की रिपोर्ट के मुताबिक सचिन वाधवा नाम के इस 33 वर्षीय शख्स को हरियाणा के हिसार से मंगलवार को गिरफ्तार किया गया।

आरोप के मुताबिक सचिन वाधवा ने 47 वर्षीय महिला की फोटो को एक पॉर्न फिल्म एक्ट्रेस पर सुपरइम्पोज़ कर दिया और फिर इसे महिला के फेसबुक फ्रैंड्स को भेज दिया। इन्हीं में से किसी ने महिला को इस बारे में अलर्ट किया।

महिला की फोटो को कई पॉर्नोग्राफिक वेबसाइट्स पर भी अपलोड कर दिया। जब महिला ने सचिन से इस बारे में संपर्क किया तो वो रकम की मांग करने लगा। बताया गया है कि सचिन 5,000 से लेकर 25,000 रुपए की ही मांग कर रहा था।

(सचिन वाधवा- फोटो आभार मिडडे)

महिला ने कहा, "हालांकि वो छोटी रकम ही मांग रहा था, लेकिन उसे सबक सिखाना ज़रूरी था। इसलिए मैंने बांगुर नगर पुलिस स्टेशन से शिकायत की। वहां मुझे बांद्रा में साइबर सेल के पास जाने के लिए कहा गया।" महिला ने बताया कि आरोपी ने उसकी छेड़छाड़ की गई फोटो से फेसबुक पर कई जाली अकाउंट बना रखे थे।

मलाड की रहने वाली महिला ने शिकायत में कहा कि इस साल मार्च में वाधवा ने फेसबुक पर फ्रैंड रिक्वेस्ट भेजी थी जिसे उन्होंने स्वीकार नहीं किया था। इसी से ख़फ़ा होकर उसने फेसबुक पर महिला की फोटो ली और उसके साथ छेड़छाड़ करने के बाद फेसबुक पर महिला के फ्रैंड्स को भेज दिया।"   

महिला ने कहा, "मुझे लगता है कि उसने और भी कई महिलाओं के साथ ऐसा किया होगा। लेकिन पुलिस ने मेरी सही तरीके से मदद की। मैं सरकार से अपील करती हूं कि साइबर सिक्योरिटी को मज़बूत करने के लिए सभी ज़रूरी कदम उठाए जाएं।"

वाधवा की हिसार में लोकेशन उसके आईपी एड्रैस और सिस्टम से मिली जिसे वो इस्तेमाल करता था। बांगुर नगर पुलिस स्टेशन की टीम ने हिसार जाकर वाधवा को गिरफ्तार किया। उसे बोरिवली मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। वाधवा पर आईपीसी की धारा 385,500 और 506, आईटी एक्ट 2000 की धारा 67 के तहत केस दर्ज़ किया है।

वाधवा को 2008 में पुलिस ने वाहन चोरी के केस में गिरफ्तार किया था। हालांकि उसे ज़मानत पर रिहाई मिल गई थी। वाधवा के परिवार में माता-पिता के अलावा एक बड़ा भाई है। ड्रग्स की लत के कारण वो रिहेबिलिटेशन सेंटर में भी 4 महीने रहा जहां से उसे इस साल मार्च में छोड़ा गया था। तभी से वो घर पर रहकर सारा वक्त फेसबुक पर गुज़ारा करता था। पुलिस के मुताबिक वाधवा ने चार या पांच अन्य महिलाओं की फोटो के साथ भी छेड़छाड़ की।