मुआबजा लेने के लिए बेटी को मार डाला

​ो

नई दिल्ली (19 अगस्त): पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में कर्ज के तले दबे एक व्यक्ति ने सरकार से पांच लाख रुपए का मुआवजा लेने के लिए अपनी 4 साल की बेटी को नहर में डुबो कर मार दिया और उसके अपहरण की झूठी शिकायत दर्ज करा दी।

- पुलिस के मुताबिक सात लाख रुपए के कर्ज तले दबे शाहबाज अहमद ने पंजाब सरकार से मुआवजा हासिल करने के लिए अपनी 4 की बेटी शाहिबा की हत्या कर दी। 

- लाहौर से करीब 150 किलोमीटर दूर कोटला के समीप जाखर गांव के शाहबाज ने बेटी को नहर में डुबोने के बाद पुलिस में झूठी शिकायत दर्ज कराई कि उसकी बेटी का स्कूल जाते समय अपहरण कर लिया गया।

- पुलिस को रणधीर गांव के समीप नहर में लड़की का शव तैरता मिला। शव निकालने के बाद पुलिस ने कड़ाई से शाहबाज से पूछताछ की। 

- शहबाज ने कबूला कि पंजाब सरकार अपहृत बच्चों के परिवारों को मुआबजा दे रही है। इसलिए उसने अपनी बच्ची को डुबोने के बाद अपहरण की रिपोर्ट दर्ज करवायी।