21 साल पहले जिसे दी गयी मौत की सजा, वो बेसकूर था !

नई दिल्ली (3 दिसंबर): रेप और हत्या के जुर्म में एक व्यक्ति को गोलियों से भून दिये जाने के दो दशक से भी अधिक समय बाद चीन की सुप्रीम कोर्ट ने एक व्यक्ति को निर्दोष पाया। इससे इस कम्युनिस्ट देश की अपराध न्याय प्रणाली की विसंगतियां उजागर हुई हैं। चीन की सरकारी एजेंसी शिन्हुआ की खबर के अनुसार, निए शुबिन 1995 में 20 साल का था, जब उसे रेप और हत्या के जुर्म में मृत्युदंड के तहत गोलियां से भून दिया गया था। 

सुप्रीम कोर्ट के तहत दूसरी सर्किट अदालत ने 21 साल बाद यह फैसला पलट दिया। अदालत ने रेप और हत्या के करीब दो दशक पुराने इस मामले पर इस चिंता के आधार पर फिर से सुनवाई की कि सबूत पर्याप्त नहीं थे।