मरने के 5 घंटे बाद जिंदा हो उठा ये शख्स, फिर बताया ऊपर क्या हुआ था...!

नई दिल्ली (23 अप्रैल): यह मामला अलीगढ़ के अतरौली में किरथल गांव का है जहां के निवासी रामकिशोर का कुछ दिन पहले निधन हो गया था। उनकी हालत एकदम ठीक थी और अचानक हुए इस हादसे से परिवार को गहरा सदमा पहुंचा। रामकिशोर की मौत के बाद रिश्तेदारों को खबर कर दी गई और घर पर लोगों का हुजूम जमा होने लगा। 

रामकिशोर की मौत के बाद परिवार वालों ने रामकिशोर के अंतिम संस्कार की प्रक्रिया शुरू कर दी, लेकिन इस दौरान मृतक के शरीर में हलचल देखी गई। इसे देखकर वहां मौजूद सभी लोग हैरान रह गए, तभी अचानक रामकिशोर उठकर बैठ गए और कहा कि अब वह एकदम ठीक हैं, गलती से मुझे ले गए थे, अब वापस भेज दिया।

रामकिशोर सिंह को बोलते देख पूरा माहौल ही बदल गया। पहले जो लोग फूट-फूटकर रो रहे थे अब खुशी और चकित होकर झूमने लगे। आस-पास के इलाके में जिसने भी यह खबर सुनी सीधे रामकिशोर के घर आ पहुंचा। कई लोग मौत के उन 5 घंटों के बारे में जानना चाहते थे और कुछ लोगों को तो इस घटना पर विश्वास ही नहीं हो रहा है। इन दिनों यह घटना इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है।

राम किशोर बताते हैं कि अचानक आंखों के सामने अंधेरा छा गया और अचेत हो गया। उन्होंने कहा कि मुझे आंख बंद होते ही बस इतना दिखा की एक बैठक चल रही थी जिसमें बड़ी बड़ी दाढ़ी वाले कुछ लोग बैठे थे। उसमें एक मुख्य महात्मा भी बैठे थे।  दाढ़ी वाले लोग मुख्य महात्मा से बात  चीत कर रहे थे। दाढ़ी वाले महात्मा जनेऊ धारण किए हुए थे और मुख्य महात्मा झूले पर बैठे थे। 

इस दौरान झूले पर बैठे मुख्य महात्मा ने पूछा कि इसका क्या है, इसे क्यों ले आएं। एक आवाज आई इसका नंबर अभी नहीं है। इसे भगा दो, और मुझे ऐसा लगा ऊपर से धकेल दिया और मैं रोता हुआ वापस आ गया। राम किशोर ने बताया इस घटना के बाद दो-तीन दिन तक उठ नहीं पाया। शरीर पीला पड़ गया। राम किशोर ने कहां कि जब आंख खुली तो लोगों को रोता हुआ देखा है।