दुनिया का सबसे क्रूर रेपिस्ट, 200 साल की सज़ा सुनाई गई

मिशिगन (16 अप्रैल) :  उसका अपराध ऐसा था कि उसके लिए जो भी सज़ा सुनाई जाए कम है। पूर्व कोस्ट गार्ड सदस्य एरिक डेविन मास्टर्स को 18 महीने की बच्ची के साथ रेप का दोषी ठहराया गया है। इस शैतान ने अपनी इस दरिंदगी का वीडियो भी बनाया था। गुरुवार को 29 वर्षीय एरिक को मिशिगन की एक कोर्ट ने 200 साल कैद की सज़ा सुनाई।

केंट काउंटी सर्किट के जज मार्क ट्रसक ने एरिक को सज़ा सुनाते हुए कहा, "तुम सच में शैतान हो। हमें इसे सुनिश्चित करना होगा कि तुम जैसे लोग फिर से समाज में कदम नहीं रख सकें।"  जज ने कहा कि वे 31 साल से क्रिमिनल केस देख रहे हैं लेकिन ऐसी कट्टरता और बर्बरता पहले कभी नहीं सुनी।

एरिक को वर्ष 2012 में किए गए उसके इस जघन्य अपराध के लिए 50 साल से लेकर 200 साल तक कई काउंट में सज़ा सुनाई गई। जज ने जब इस मामले में तथ्य गिनाने शुरू किए तो कोर्ट में मौजूद लोग व्यथित हो गए।

जज ने कहा, "तुमने 18 महीने की एक बच्ची को उठाया। बिल्कुल बेगुनाह बच्ची। तुम उसे मोटल में बुरे इरादे से ले गए। साथ में कैमरा भी रखा। तुमने उस बच्ची को निर्वस्त्र किया। तुमने बेड पर उस निर्दोष बच्ची के पैर और हाथ बांध दिए और रेप किया।" एफबीआई के मुताबिक एरिक ने अपनी पाशविक हरकतों का वीडियो बना चाइल्ड पॉर्नोग्राफी कारोबार में बेच दिया था। सुनवाई के दौरान एरिक ने इस गुनाह के लिए माफी मांगी। इस मामले में पीड़ित का मां ने जज से कहा, 'इस आदमी ने मेरी बेटी की जिंदगी को बर्बाद किया है। वह इस गुनाह को कभी नहीं भूल पाएगी। जज साहब मैं आपसे प्रार्थना करती हूं कि इसे कभी नहीं छोड़ा जाए। यह आदमी दुनिया में रहने के लिए काबिल नहीं है।'

 

बता दें कि एरिक को पिछले महीने अन्य तीन बच्चियों की पॉर्नोग्राफी के मामले में 50 साल की सजा सुनाई गई थी।