अपने सांसदों की गिरफ्तारी पर ममता हुईंं 'लाल', फिर दिल्ली करेंगी कूच

कोलकाता (3 जनवरी):मोदी सरकार और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच टकराव अब और बढ़ गया है। रोज वैली चिटफंड घोटाले के मामले में सीबीआई ने तृणमूल कांग्रेस के एक और सांसद सुदीप बंदोपाध्याय को पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले इसी मामले में सीबीआई टीएमसी सांसद तापस पॉल को गिरफ्तार कर चुकी है।

अपने दो सांसदों के गिरफ्तारी के बाद ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। ममता बनर्जी ने आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार के इशारे में सीबीआई ने उनके दो सांसदों को गिरफ्तार किया है।

ममता बनर्जी के मुताबिक नोटबंदी का विरोध करने के कारण केंद्र सरकार उन्हें और उनकी पार्टी को परेशान करने पर तुली है। लेकिन नोटबंदी के खिलाफ उनका मुहिम जारी रहेगा। उन्हों कहा कि नोटबंदी के खिलाफ उनकी पार्टी 9 जनवरी को कोलकाता में आरबीआई आफिस के सामने प्रदर्शन करेगी। इसके बाद वह दिल्ली जाएंगी और वहां 10-11 जनवरी को विरोध प्रदर्शन करेंगी।

ममता बनर्जी ने कहा कि प्रधानमंत्री राजनीतिक पार्टियों को आतंकित करने के लिए ईडी और सीबीआई का प्रयोग कर रहे हैं। कई राजनीतिक पार्टियां डरी हुई हैं, लेकिन बोल नहीं पा रही हैं। अमित शाह और नरेंद्र मोदी को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। पीएम मोदी देश की राजनीति नहीं समझते। लोगों को नोटबंदी के खिलाफ सड़कों पर उतरना चाहिए। जनता पीएम मोदी को सबक सिखाएगी।