ड्रग रैकेट में पति का नाम आने पर ममता कुलकर्णी ने दी सफाई, बोलीं...

मुंबई (29 अप्रैल): मुंबई पुलिस द्वारा पकड़े गए ड्रग रैकेट में पति का नाम आने पर ममता कुलकर्णी ने सफाई दी है। उन्होंने कहा कि उनके पति निर्दोष हैं। एक टीवी चैनल से बात करते हुए उन्होंने कहा कि उनके पति का ड्रग डीलिंग्स से कोई लेना-देना नहीं है और इसको लेकर कुछ महीने पहले केन्या में गिरफ्तार होने की अटकलों को भी खारिज किया है।

उन्होंने बताया कि उनके पति को पुलिस ने पारिवारिक विवाद में गिरफ्तार किया था लेकिन दो महीने बाद ही रिहा भी कर दिया था। गौर हो कि मुंबई पुलिस ने एक ड्रग रैकेट का खुलासा किया है, जिसका मुखिया उनके पति विकी गोस्वामी को बताया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक, ममता के पति कुख्यात ड्रग माफिया हैं और इंटरनेशनल ड्रग रैकेट चलाते हैं। मामले के सामने आने के बाद ठाणे क्राइम ब्रांच ड्रग्स तस्करों से उनके रिश्तों के बारे में पूछताछ करना चाहती है।

पुलिस को उम्मीद है कि ममता से पूछताछ के बाद उनके पति विक्की गोस्वामी के हजारो करोडों की ड्रग तस्करी और ड्रग के कारोबार का खुलासा हो सकता है। बता दें कि मुम्बई से सटे थाणे में हजारो करोड़ की ड्रग्स तस्करी में ममता के पति विक्की गोस्वामी का नाम सामने आया है

ठाणे पुलिस ने महाराष्ट्र के सोलापुर में छापेमारी की और 2 हज़ार करोड़ रुपए की ड्रग की बड़ी खेप पकड़ी थी। अब इस मामले में एक नया खुलासा हुआ है। कहा जाता है कि विक्की गोस्वामी ड्रग्स तस्करी की दुनिया में जाना-पहचाना नाम है। साल 1997 में ड्रग्स तस्करी के केस में उसे दुबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

खबरों के मुताबिक, ममता कुलकर्णी ने साल 2012 में विक्की गोस्वामी से शादी रचा कर उसे दुबई जेल से छुड़वा लिया था। बाद में साल 2014 में ममता कुलकर्णी को विक्की गोस्वामी के साथ ड्रग्स सम्गलिंग केस में हिरासत में भी लिया गया। फिर बाद में छोड़ दिया गया, लेकिन विक्की गोस्वामी फिर से ड्रग्स स्मगलिंग की दुनिया में सक्रिय हो गया।