डीजीपी को भारी पड़ी ममता बनर्जी की नाराजगी

नई दिल्ली (25 मई): कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को थोड़ी दूर तक पैदल क्या चलना पड़ा, कर्नाटक की डीजीपी को इस गुस्ताखी का शिकार होना पड़ा। 23 मई को एचडी कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में ममता बनर्जी कड़ी सुरक्षा की वजह से पैदल चलना पड़ा था। इसके बाद दीदी काफी आग बबूला हो गई थीं।कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में एक मंच पर विपक्ष दिखाई दिया, लेकिन शपथ ग्रहण से पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य की डीजीपी पर भड़क उठीं। मंच पर पहुंचते ही पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी मंच के पास पहुंची और उनका सामना पूर्व पीएम व जेडीएस चीफ एचडी देवगौड़ा से हुआ। उन्होंने बिना देरी किए अपनी नाराजरी जाहिर कर दी। इसके बाद देवगौड़ा ने खेद जताया और दीदी को मनाया। जिसके बाद ममता बनर्जी अपनी जगह पर जाकर बैठ गई।लेकिन अगले ही दिन इसकी गाज कर्नाटक के डीजीपी पर गिरी और उनका ट्रांसफर कर दिया गया। सूत्रों कि माने तो समारोह स्थल तक सीएम ममता के पैदल पहुंचने पर राज्य की महिला डीजीपी नीलमणि राजू का ट्रांसफर कर दिया गया है। हालांकि गृह विभाग के अधिकारियों ने इस ट्रांसफर को सामान्य प्रक्रिया बताया है और इस तबादले के पीछे किसी भी तरह की राजनीतिक वजह होने से इनकार कर दिया है, लेकिन जानकार इसे ममता बनर्जी की कुमारस्वामी से की गई शिकायत के तहत की गई कार्रवाई बता रहे है।