अमित शाह के हेलिकॉप्टर विवाद पर बोलीं ममता- बीजेपी लोगों को गुमराह कर रही है

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 जनवरी):  पश्चिम बंगाल के मालदा में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के हेलिकॉप्टर लैंडिंग विवाद पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सफाई पेश की है। उन्होंने कहा कि हेलिकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति दी जा चुकी है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर पेश कर रही है और लोगों को गुमराह कर रही है। ममता ने कहा, 'अनुमति दी जा चुकी है लेकिन यहां कुछ सुरक्षा का मुद्दा था। पुलिस ने कहा था कि चॉपर को किसी दूसरे स्थान पर लैंड कराया जाए। पुलिस के आवेदन पर मैंने खुद भी अपने चॉपर की लैंडिंग बदलवाई थी। ममता ने आगे कहा, 'हमने मीटिंग के लिए इजाजत दी क्योंकि हम लोकतंत्र में भरोसा करते हैं। वे (बीजेपी) जानकारी को तोड़-मरोड़ कर लोगों को गुमराह कर रहे हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि अमित शाह की सभा को लेकर भाजपा अफवाह फैला रही है और यह कह रही है के उनको सभा करने के लिए राज्य सरकार के तरफ से सभा स्थल की अनुमति नही दी जा रही है यहाँ तक कि उनको सभा करने की  भी इजाजत नही दिया जा रही है। सोमवार को उत्तर बंगाल के सफर पर रवाना होते वक्त कोलकाता एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते हुए ममता बनर्जी ने भाजपा के खिलाफ ये आरोप लगाते हुवे ये कहा है की अमित शाह की सभा की इजाजत दी जा चुकी है।

ममता बनर्जी ने कहा कि कुछ सुरक्षा संबंधी मामले हैं  पुलिस ने कहा है कि अमित शाह का हेलिकॉप्टर कहीं और लैंड करना चाहिए, मैंने भी अपने हेलिकॉप्टर की लैंडिंग की जगह बदली है, हमने बैठक के लिए मंजूरी दे दी है क्योंकि हम लोकतंत्र में विश्वास करते हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी लोगों को धोखा दे रही है, हम लोग लोकतंत्र पर विश्वास रखते हैं। इसलिए किसी राजनीतिक दल की सभा को रोकने का काम हम नहीं करते हैं।

बता दें कि बंगाल के मालदा में पहले 19 जनवरी को अमित शाह की रैली होनी थी, लेकिन उन्हें स्वाइन फ्लू होने से रैली  की तारीख आगे बढ़ कर 22 जनवरी कर दी गयी। बीजेपी ने मालदा एयरपोर्ट पर हेलिकॉप्टर उतारने के लिए एडिशनल कलेक्टर को पत्र लिखा था, लेकिन स्थानीय प्रशासन ने कहा था कि कंस्ट्रक्शन मटेरियल पड़ा होने से यहां हेलिकॉप्टर उतारना सुरक्षित नहीं है। इसके बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आरोप लगाया कि कुछ दिन पहले ममता बनर्जी का हेलिकॉप्टर वहां उतारा गया था। हमारे पास इसकी तस्वीरें हैं. जब ममता बनर्जी का हेलिकॉप्टर वहां उतर सकता है तो अमित शाह का क्यों नहीं, ममता सरकार प्रशानिक शक्तियों का दुरुपयोग कर रही है।