बिहार में सबसे ज्यादा हैं कुपोषित बच्चे

नई दिल्ली (6 सितंबर): साल 2014 के एक स्वास्थ्य सर्वेक्षण के अनुसार जिस उम्र में बच्चे स्कूल जाते हैं, उस आयु वर्ग के बच्चों के स्वास्थ्य स्तर को देखें तो बिहार में पांच से 18 साल के बच्चों में कुपोषितों की संख्या सर्वाधिक है, वहीं बच्चों का कद कम रह जाने के सर्वाधिक मामले उत्तर प्रदेश में देखे गए। वार्षिक स्वास्थ्य सर्वेक्षण रिपोर्ट ‘क्लीनिकल एंथ्रोपोमेट्रिक एंड बायोकेमिकल’ सीएबी सर्वे में कहा गया, ‘बिहार में 5 से 18 साल आयुवर्ग में कुपोषितों 33 प्रतिशत और अति कुपोषितों 21.7 प्रतिशत की संख्या सर्वाधिक दर्ज की गई है वहीं उत्तराखंड में यह सबसे कम दर्ज की गई है जो क्रमश 19.9 प्रतिशत और 6.1 प्रतिशत है। महापंजीयक और जनगणना आयुक्त कार्यालय ने साल 2014 के लिए बिहार, ओडिशा, छत्तीसगढ़, झारखंड, मध्य प्रदेश, राजस्थान, असम, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के लिए यह सर्वेक्षण किया।