माल्या को वापस लाने के लिए सरकार बना रही है यह योजना

नई दिल्ली (9 जून): बैंकों के लगभग 9 हजार करोड़ रुपये के कर्जदार शराब व्यवसायी विजय माल्या को वापस भारत लाने के लिए सरकार एक योजना पर काम कर रही है। केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने बताया कि माल्या को लाने का एकमात्र तरीका प्रत्यर्पण है और सरकार जरूरी कानूनी प्रक्रिया पर काम कर रही है।

वित्त राज्यमंत्री ने कहा कि हम माल्या को वापस भारत लाने के लिए कानूनी प्रक्रिया पर काम कर रहे हैं। नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार के दो साल पूरे होने के मौके वह तथा केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू सरकार की उपलब्धियों को बताने के लिए यहां आए थे। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि हमने माल्या को जानबूझकर कर्ज नहीं लौटाने वाला घोषित किया है, लेकिन हमें ब्रिटेन के साथ कानून प्रक्रिया के जरिए जाना है।

सिन्हा ने कहा कि उन्हें यहां वापस लाले का एकमात्र तरीका प्रत्यर्पण है। लेकिन ब्रिटेन के साथ प्रत्यर्पण प्रक्रिया बेहद जटिल है और कानूनी प्रक्रिया पर काम कर रहे हैं। बता दें, शराब व्यवसायी विजय माल्या की बंद पड़ी कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस पर बैंकों का 9,000 करोड़ रुपये से अधिक बकाया है। उन्होंने मार्च में देश छोड़ दिया।