श्रीलंका के इस दिग्गज खिलाड़ी की भविष्यवाणी, कहा- 2011 का इतिहास दोहराएगी टीम इंडिया

Team India

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (6 जुलाई): आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 में भारत सेमीफाइनल में पहुंच चुका है। सेमीफाइनल से आज भारत का आखिरी लीग मैच श्रीलंका के साथ जाना है। श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा का मानना है कि टीम इंडिया 2011 वर्ल्‍ड कप का इतिहास दोहरा सकती है। उन्‍होंने कहा कि विराट कोहली और एमएस धोनी इंडिया के तुरुप के इक्‍के साबित होंगे। 

मलिंगा ने कहा, 'मुझे लगता है कि यह टीम वह (2011 वर्ल्‍ड कप का कमाल) कर सकती है क्योंकि इसमें काबिलियत है। इस टीम के पास अनुभवी खिलाड़ी हैं और आप जानते ही हैं कि रोहित कितनी शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैं। विराट कोहली की बड़ी पारी आना अभी बाकी है। वह इस वर्ल्‍ड कप का अपना पहला शतक सेमीफाइनल या फाइनल में बना सकते हैं। भारत के पास मैच जिताऊ खिलाड़ी हैं।' लसित मलिंगा ने कहा कि दिग्‍गज क्रिकेटर एमएस धोनी को अभी एक-दो साल खेलना चाहिए। बकौल मलिंगा, 'उन्हें एक या दो साल और खेलना जारी रखना चाहिए और ऐसे खिलाड़ी तैयार करने चाहिए जो फिनिशर हों। वह अभी भी क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ फिनिशर हैं। उनकी जगह भरना मुश्किल होगा. युवा खिलाड़ियों को उनसे सीखना चाहिए।'

श्रीलंका के दिग्‍गज गेंदबाज मलिंगा ने भारत के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की काफी तारीफ की। उन्‍होंने कहा कि बुमराह को यॉर्कर के बजाए उनकी सटीकता खतरनाक बनाती है। भारतीय तेज गेंदबाज की सबसे अच्छी बात यह है कि उन्हें अपनी काबिलियत पर भरोसा है जिससे उन्हें बड़े टूर्नामेंट में अच्छा करने का दबाव नहीं होता। मलिंगा ने कहा, 'दबाव क्या है? दबाव का मतलब है कि आपके पास योग्यता नहीं है। 

मलिंगा ने कहा कि अगर आपके पास योग्यता है तो आप दबाव में नहीं होंगे। यह योग्यता और सटीकता की बात है और अगर आप सटीक हैं, आप जानते हैं कि आप क्या कर सकते हैं तो कोई परेशानी नहीं है। वह बेहतरीन योग्यता वाले गेंदबाज हैं और जानते हैं कि वह एक ही गेंद को लगातार कर सकते हैं।' उन्‍होंने कहा कि बुमराह ने काफी कम समय में लंबा सफर तय किया है। मलिंगा ने कहा, 'मैंने उन्हें 2013 में देखा था और उनके साथ समय बिताया था। वह सीखने के भूखे हैं और काफी जल्दी सीखते हैं। सीखने की भूख होना जरूरी है। बुमराह ने काफी कम समय में काफी कुछ सीखा है।'