मालदीव: पूर्व राष्ट्रपति गिरफ्तार, सुरक्षा बलों ने शुरू किया सुप्रीम कोर्ट के गेट को तोड़ना

नई दिल्ली(6 फरवरी): मालदीव में राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने सोमवार को 15 दिन की इमर्जेंसी का ऐलान कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रपति को राजनीतिक कैदियों को रिहा करने का आदेश दिया था जिसे मानने से इनकार करने पर इस संकट की शुरुआत हुई थी। 

- जानकारी के मुताबिक, सुरक्षा बलों ने सुप्रीम कोर्ट के गेट को तोड़ना शुरू कर दिया है। उधर अमेरिका ने भी कहा है कि सरकार को कानून का सम्मान करना चाहिए। यही नहीं, मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मौमून अब्दुल को उनके अलग हो चुके सौतेले भाई और राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन द्वारा देश में आपातकाल लगाए जाने के कुछ देर बाद ही गिरफ्तार कर लिया गया।

- सूचना के मुताबिक मालदीव के अनुच्छेद 253 के तहत अगले 15 दिनों के लिए राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन ने आपातकाल की घोषणा की है। इस अवधि में नागरिकों के कुछ अधिकार सीमित रहेंगे, लेकिन सामान्य हलचल, सेवाओं और व्यापार पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा।