धोनी ने संन्यास को लेकर कहा...

नई दिल्ली(14 अगस्त): टीम इंडिया के सीमित ओवरों के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि उनका जल्द संन्यास लेने का कोई इरादा नहीं है और वह केवल क्रिकेट पर ध्यान देना चाहते हैं।  

-‘एम एस धोनी द अनटोल्ड स्टोरी’ फिल्म के ट्रेलर लांच के मौके पर धोनी, अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत, निर्देशक नीरज पांडे और फॉक्स स्टार स्टूडियो के विजय सिंह शामिल हुए।  

-जब धोनी से उनके अगले कदम के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा, ‘‘इस सवाल का जवाब देना मुश्किल है। जब मैं बड़ा हो रहा था, तो मेरी जिंदगी में दो ही विकल्प थे - क्रिकेट खेलना और पढ़ाई करना। जब मुझे नौकरी मिली तो मैं आश्वस्त हो गया कि अगर क्रिकेट नहीं हुआ तो मेरे हाथ में एक अच्छी नौकरी है। ’’ 

- उन्होंने कहा, ‘‘मुझे सकारात्मक और नकारात्मक पक्ष देखना होगा और सोचना होगा कि लोग मुझे किस भूमिका में देखना चाहेंगे। मैं इसके बारे में बाद में सोचूंगा क्योंकि इस समय मैं क्रिकेट खेल रहा हूं और इस पर ही ध्यान देना चाहूंगा।’’   - धोनी ने कहा कि वह वर्तमान में जीने में विश्वास रखते हैं और अतीत या भविष्य को लेकर ज्यादा नहीं सोचते।  उन्होंने कहा, ‘‘मैंने कभी भी यह सोचकर क्रिकेट नहीं खेला कि यह मेरे लिए मील का पत्थर है। जब हम स्कूल या पार्क में क्रिकेट खेलते थे तब हमारा एकमात्र लक्ष्य मैच जीतना होता था। मील के पत्थरों का इस्तेमाल कभी भी आपका भविष्य निर्धारित करने के लिए नहीं किया जा सकता। ’’  

- धोनी ने कहा, ‘‘एेसा होता तो माइकल फेल्प्स को पांच आेलंपिक स्वर्ण पदक जीतने के बाद संन्यास ले लेना चाहिए था। केवल यह मायने रखता है कि कोई अपना काम कैसे जारी रखता है, वह इसमें कितना अच्छा है और उसे किस तरह आगे ले जा सकता है।’’   धोनी के जीवन पर आधारित यह फिल्म 30 सितंबर को रिलीज होगी। सुशांत ने इसमें धोनी की भूमिका निभाई है और फिल्म में अनुपम खेर, कायरा आडवाणी और अन्य भी काम कर रहे हैं।