MS धोनी पर कप्तानी छोड़ने के लिए कोई दबाव नहीं था: एमएसके प्रसाद

नई दिल्ली ( 9 जनवरी ): बीसीसीआई चयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने महेंद्र सिंह धोनी पर वनडे-टी 20 की कप्‍तानी छोड़ने के लिए दबाव होने संबंधी मीडिया में आई खबरों का खंडन किया है। उन्होंने कहा कि कप्तानी छोड़ने को लेकर एमएस धोनी पर कोई भी दबाव नहीं था। उन्होंने धोनी के इस हैरान कर देने वाले फैसले को उनका व्यक्तिगत फैसला बताया है।

एमएसके प्रसाद ने एक साक्षात्कार में कहा "सीमित ओवरों की कप्तानी के लिए महेंद्र सिंह धोनी पर किसी ने कोई भी दबाव नहीं बनाया था, उनका वह व्यक्तिगत फैसला था, उन्होंने यह बात मुझे नागपुर में झारखण्ड और गुजरात के बीच रणजी ट्रॉफी के फाइनल मैच के दौरान बताई थी"

गौरतलब है कि भारतीय क्रिकेट टीम को आगामी कुछ समय में इंग्लैंड के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज और टी20 सीरीज खेलनी है जिससे पहले ही एमएस धोनी सीमित ओवरों की कप्तानी से इस्तीफ़ा दे चुके हैं और अब विराट कोहली को भारतीय एकदिवसीय टीम की कप्तानी सौप दी गई है।

पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के इस फैसले के बाद उनके फैंस को खासी हैरानी हुई थी। उनका भारतीय टीम की सीमित ओवरों की कप्तानी से इस्तीफ़ा देने का निर्णय वाकई में चौका देने वाला रहा है। लेकिन उसके बाद क्रिकेट जगत ने उनके इस फैसले को सम्मान देते हुए सही बताया। क्रिकेट जगत के कई बड़े-बड़े महान दिग्गजों ने ट्विटर के ज़रिए धोनी को मुबारकबाद भी दी थी।

आपकों बता दें कि इंग्लैंड के खिलाफ 15 जनवरी से शुरू होने वाली एकदिवसीय सीरीज और टी20 सीरीज की कप्तानी का भार विराट कोहली संभालेंगे। जहां महेंद्र सिंह धोनी भी उन दोनों सीरीज के दौरान भारतीय टीम की तरफ से उपलब्ध रहेंगे।

यह भी देखना काफी दिलचस्प होगा कि भारतीय टीम में काफी दिनों बाद वापसी करने वाले ऑलराउंडर युवराज सिंह इंग्लैंड के खिलाफ कैसा प्रदर्शन करते हैं। क्या वह फिर से इंग्लैंड के खिलाफ रन बरसाते नज़र आएंगे। चलिए यह तो आने वाली सीरीज ही बताएगी कि उनका प्रदर्शन कैसा रहता है।