...तो इस वजह से चौथे नंबर पर खेलने उतरे थे धोनी

नई दिल्ली(24 अक्टूबर):भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने तीसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में रविवार को चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने पर कहा कि उन्होंने अन्य खिलाड़ियों को मैच खत्म करने का मौका देने के लिए ऐसा किया। न्यूजीलैंड के 286 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने विराट कोहली (नाबाद 154), धोनी (80) और मनीष पांडे (नाबाद 28) रन की पारियों की बदौलत 10 गेंद शेष रहते तीन विकेट पर 289 रन बनाकर जीत दर्ज की।

धोनी ने मैच के बाद कहा कि मैं लंबे समय से निचले क्रम में बल्लेबाजी कर रहा था, मुझे लगता है कि लगभग 200 पारियों से। कुछ हद तक मेरी स्ट्राइक रोटेट करने की क्षमता कम हो रही थी इसलिए मैंने बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आने और अन्य खिलाड़ियों को मैच खत्म करने का मौका देने का फैसला किया। उन्होंने कहा कि लेकिन मुझे पता था कि मुझे बड़े शॉट भी खेलने होंगे। विराट के साथ बल्लेबाजी करने से मदद मिली क्योंकि हमें पता है कि हम बाउंड्री जड़ सकते हैं और तेजी से एक और दो रन भी ले सकते हैं। वह शुरू से ही ऐसा खिलाड़ी रहा है जो हमेशा भारत के लिए मैच जीतना चाहता है। धोनी और कोहली ने तीसरे विकेट के लिए 151 रन जोड़कर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई।