जानिए, मरने से पहले महात्मा गांधी से हिटलर तक, किसने क्या खाया...

नई दिल्ली (16 मार्च): महात्मा गांधी से लेकर अब्राहम लिंकन और हिटलर तक का आखिरी समय इतिहास में दर्ज है। लेकिन ये बात कम ही लोग जानते हैं कि इन नेताओं ने अपने आखिरी समय में क्या खाया था। तो आइए जानते हैं इन नेताओं के आखिरी निवाले के बारे में...

अब्राहम लिंकन  अमेरिका के सोलहवें राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन का निधन 14 अप्रैल , 1865 को हुआ था। आखिरी सांस लेने से पहले लिंकन ने भुना वर्जीनिया चिकन, अखरोट, पके हुए येम्स और फूलगोभी के साथ पनीर सॉस खाया था। 

महात्मा गांधी 30 जनवरी 1948 की शाम को महात्मा गांधी बकरी का दूध, पकी हुईं सब्जियां, संतरा, खट्टा निंबू और जूस पिया। इसके बाद वे नई दिल्ली के बिरला भवन से घूमने के लिए निकले। वे रोज शाम को प्रार्थना किया करते थे। 30 जनवरी 1948 की शाम को जब वे संध्याकालीन प्रार्थना के लिए जा रहे थे तभी उनके ही एक समर्थक ने उन्हें मौत के घाट उतार दिया।   

सद्दाम हुसैन इराक का राष्ट्रपति रह चुका तानाशाह सद्दाम हुसैन को 30 दिसम्बर 2006 को उत्तरी बगदाद में फांसी पर लटकाया गया। हुसैन को फांसी पर लटकाने से पहले उसे पसंदीदा खाना खाने की इजाजत मिली थी। इसके बाद हुसैन ने चावल के साथ उबला चिकन खाया और पानी में शहद मिलाकर पीया था।

एडोल्फ हिटलर  जर्मनी का राजनेता और तानाशाह ने अपना आखिरी निवाला 30 अप्रैल 1945 को खाया था। यह वही दिन था जब हिटलर को यह अहसास हुआ कि वह युद्ध हार चुका है। इसके बाद उसने अपने को एक बंकर में बंद कर लिया और सॉस के साथ स्पेघेटी का स्वाद लिया। इसके बाद आत्महत्या कर ली।

प्रिंसेस डायना 31 अगस्त 1997 को जब राजकुमारी डायना अपने मिस्र मूल के दोस्त डोडी अल फयाद के साथ पेरिस के एक होटल से निकलीं तब मोटरसाइकिल पर सवार कुछ फोटोग्राफरों ने उनका पीछा किया। उनकी मर्सिडीज कार शहर के बीच बनी एक सुरंग से गुजर रही थी। इस सुरंग में तेज रफ्तार से भाग रही उनकी कार एक फुटपाथ से जा टकराई। हादसे में डायना के साथ फयाद और उनके ड्राइवर हेनरी पॉल की भी मौत हो गई। डायना ने अपनी मौत से पहले मशरूम, समुंदरी मछ्ली और एस्परैगस ऑमलेट के साथ सब्जी खाई थी।