महाराष्ट्र में 5 लाख सरकारी कर्मचारियों की जाएगी नौकरी

मुंबई(4 दिसंबर): महाराष्ट्र राज्य राजपत्रित अधिकारियों महासंघ के मुख्य सलाहकार जी डी कुल्ले ने कहा कि अगर सरकार 2017 के अपने प्रस्ताव को लागू करने का निर्णय लेती है तो लगभग 5 लाख राज्य सरकार के कर्मचारियों की छुट्टी हो सकती है।

-मई में, वित्त विभाग ने जीआर जारी कर कहा कि कर्मचारियों की संख्या कम की जाए और सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग ज्यादा से ज्यादा किया जाए। जीआर में सभी विभागों को एक मास्टरप्लान बनाने और कर्मचारियों की संख्या 30 फीसदी कम करने का निर्देश जारी किया।

- सातवें वेतन आयोग के कार्यान्वयन के कारण वित्तीय बोझ को कम करने के लिए इस कटौती पर जोर दिया जा रहा है। कुल्ले ने कहा कि 19 लाख सरकारी कर्मचारी हैं। पिछले 3 साल से करीब 2 लाख पद खाली हैं। जिसके बाद कर्मचारियों की संख्या बची 17 लाख। सरकार आरटीआई और सेवा का अधिकार जैसे एक्ट लाई, लेकिन इन सेवाओं के लिए ज्यादा लोग नहीं है। हालांकि, सरकार ने जनवरी 2016 तक सातवें वेतन आयोग को लागू करने का वादा किया था, ऐसा अभी तक करना बाकी है।