'राम मंदिर' बनकर तैयार, भाजपा का शिवसेना और विपक्ष ने किया विरोध

नई दिल्ली ( 22 दिसंबर ): भाजपा ने अयोध्या में राम मंदिर बनाने का संकल्प तो बहुत पहले ले लिया था। वह हर चुनाव में राम मंदिर का जिक्र किसी न किसी बहाने जरूर करती है और इसे भुनाना चाहती है। हालांकि अब तक अयोध्या में राम मंदिर नहीं बन पाया, लेकिन मुंबई में जरूर राम मंदिर बन चुका है। दरअसल यह ओशिवरा में बना एक रेलवे स्‍टेशन है जिसका नाम राम मंदिर रखा गया है।

रेलवे स्‍टेशन का यह नाम रखे जाने का विपक्ष और शिवसेना ने विरोध किया है। विपक्ष का कहना है कि भाजपा ने बीएमसी चुनाव से पहले यह कदम उठाकर वोट बैंक की राजनीति की है वहीं शिवसेना का कहना है कि भाजपा ने उसके प्रयासों का श्रेय ले लिया है।

वहीं दूसरी तरफ भाजपा ने आरोपों को नकारते हुए दलील दी है कि रेलवे स्‍टेशन का नाम इसके बाहर बने राम मंदिर के आधार पर रखा गया है। राज्‍य की मंत्री विद्या ठाकुर का कहना है कि इसमें कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं, क्‍योंकि स्‍टेशन का कोई नाम तो रखना ही था। स्‍थानीय लोगों की मांग पर यह नाम रखा गया है।

बता दें कि यह रेलवे स्‍टेशन 9 साल में बनकर तैयार हुआ जिसमें 4 प्‍लेटफार्म हैं। रेल मंत्री सुरेश प्रभु इसका उद्घाटन करेंगे।