Blog single photo

पीएम मोदी ने कहा- बांटने की राजनीति अतीत का हिस्सा, अब पूरी फिल्म दिखाएगी जनता

महाराष्ट्र के भंडारा जिले के सकोली में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 'बांटो और राज करो' की राजनीति अब अतीत का हिस्सा हो चुकी है।

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(13 अक्टूबर): महाराष्ट्र चुनाव की सरगर्मी लगातार बढ़ती ही जा रही है, क्योंकि वोटिंग होने में अब ज्यादा दिन का समय नहीं बचा है। चुनाव में जीत दर्ज करने के लिए सारे राजनीतिक दल दिन-रात एक कर रहे  हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी भी सत्ता में बने रहने के पुरजोर कोशिश कर रही है। रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी राज्य के भंडारा जिला के सकोली में चुनावी  सभा को संबोधित किया। मोदी ने इस दौरान कहा कि 'बांटो और राज करो' की राजनीति अब प्राचीन समय का हिस्सा हो चुकी है। महाराष्ट्र की जनता ने 2014 में इसका ट्रेलर दिखा दिया था और इस बार पूरी फिल्म दिखाएगी। जो काम करेगा उसको ही आपका विश्वास मिलेगा, यह अब सिद्ध हो चुका है।

महाराष्‍ट्र में रविवार को चुनावी सभा का आगाज करने वाले पीएम मोदी की भंडारा में दूसरी रैली थी। उन्होंने कहा, 'आज हमारी हर नीति, हर रणनीति- जनकल्याण से राष्ट्रकल्याण की है, जन अभियान से राष्ट्रनिर्माण की है। चाहे गरीबों के घर का और शौचालय का निर्माण हो, हर घर में बिजली का कनेक्शन हो, गरीबों को मुफ्त इलाज मिले। इन सभी योजनाओं के केंद्र में गरीब और सामान्य जन है।' इससे पहले जलगांव में चुनावी सभा में अनुच्छेद 370, 35A और तीन तलाक जैसे मुद्दों पर विपक्षी दलों को घेरते हुए पीएम ने चुनौती दी कि अगर कांग्रेस समेत विरोधियों में हिम्मत है तो वे अपने चुनावी घोषणापत्र में यह लिखकर दिखाएं कि वे इस ऐतिहासिक फैसले को पलट देंगे।

'गांवों के विकास के लिए 25 लाख करोड़ रुपये'

पीएम ने कहा, 'देश की ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर अब जितना ध्यान दिया जा रहा है, उतना पहले कभी नहीं दिया गया। गांव की सड़कों पर पहले ही तेजी से काम चल रहा है। अब आने वाले वर्षों में गावों में इंफ्रास्ट्रक्टर को विकसित करने के लिए 25 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। पहले पानी के मामलों को अलग अलग मंत्रालय और विभाग देखते थे, सब बिखरा पड़ा था। इसका एक असर यह भी था कि पानी से जुड़ी योजनाएं के पूरा होने में वर्षों लग जाते थे। अब यह सभी विभाग जल शक्ति मंत्रालय के अंतर्गत लाए गए हैं।'

मोदी ने कहा, 'लोकसभा चुनाव के दौरान हमने आपको आश्वस्त किया था कि पीएम किसान सम्मान निधि के अंतर्गत हर किसान को लाया जाएगा और छोटे किसानों को पेंशन की सुविधा से जोड़ा जाएगा। आज यह दोनों वादें हकीकत में बदल चुके हैं। आदिवासी क्षेत्रों के विकास के लिए और स्वरोजगार पर आज चारों दिशाओं में नए नए प्रकल्पों द्वारा तेजी से काम चल पड़ा है। आदिवासी बच्चों की शिक्षा और उनकी स्किल को बढ़ाने के लिए एकलव्य मॉडल स्कूल का व्यापक नेटवर्क सरकार द्वारा तैयार किया जा रहा है।

पीएम ने कहा, 'भारत पर्यटन के मानचित्र पर तेज़ी से उभर रहा है। पूरी दुनिया से बड़ी संख्या में टूरिस्ट भारत आ रहे हैं। कल ही मैं तमिलनाडु के महाबलीपुरम में था। वहां जब चीन के राष्ट्रपति से मेरी बातचीत हो रही थी तो वह भारत की सांस्कृतिक समृद्धि से बहुत प्रभावित थे। यह पूरा क्षेत्र जंगलों से भरा है, तालों-तालाबों और झरनों से भरपूर है। यहां पर्यटन के लिए भरपूर संभावनाएं हैं। आदिवासी समाज द्वारा तैयार होने वाले उत्पाद भी यहां भरपूर हैं। चुलबंद नदी और नागझीरा नैशनल पार्क को पर्यटकों के लिए और आकर्षक बनाना जरूरी है। महाराष्ट्र के ग्रामीण क्षेत्रों की 3,400 परियोजनाएं जो 15 लाख करोड़ रुपये की हैं, उन्हें सीएम देवेंद्र फडणवीस ने शुरू किया है। इसके अलावा ढेर सारे काम बीजेपी की सरकार ने किए हैं।

Tags :

NEXT STORY
Top