मंत्री ने दिया महिलाओं पर विवादित बयान, मुश्किल में शराब कंपनियां

इन्द्रजीत सिंह, मुंबई(10 नवंबर): महाराष्ट्र सरकार के एक मंत्री का शराब पर मजाक में दिया बयान अब उन शराब कंपनियों के लिए मुसीबत बन सकता है जिन्होंने ब्रांड का नाम महिलाओं के नाम पर रखा है। महाराष्ट्र महिला आयोग ऐसी कंपनियों को नोटिस देने पर विचार कर रही है।

- मंत्री गिरीश महाजन ने कहा कि ज्यादा बिक्री के लिए शराब का नाम महिलाओं के नाम पर रखने का बयान मैंने मजाक में दिया था और इसके लिए माफ़ी भी मांगता हूं।

- मंत्री ने भले ही विवाद से पल्ला झाड़ लिया हो लेकिन उनका ये मजाक उन शराब कंपनियों के लिए मुसीबत बन सकता है जिनके ब्रांड नाम नारी सूचक हैं। 

- गौरतलब है कि गिरीश महाजन ने पिछले दिनो एक समारोह में बॉबी, जुली नाम की शराब का उल्लेख कर स्थानीय शराब विक्रेताओं को भी महिलाओं के नाम पर ब्रांड का नाम रखने की सलाह दी थी। मंत्री का तर्क था कि इससे बिक्री बढ़ जाएगी। 

- अपने बयान में मंत्री ने महाराजा शराब का नाम बदलकर महारानी रख कर उसका प्रभाव देखने की अपील भी की थी। हालांकि बाद में चौरतरफा निंदा के बाद उन्होंने माफ़ी मांग ली पर उनके बयान से राज्य में नारी अस्मिता पर एक नई बहस शुरू हो चुकी है।