Blog single photo

शरद पवार बोले उद्धव ठाकरे ही होंगे सीएम, कांग्रेस ने कहा शनिवार को होगी बात

महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन को लेकर करीब एक महीने से उठा-पठक का दौर जारी है। नेताओं की मुलाकात और बैठकों के दौर को देखते हुए राजनीतिक पंडित भी कहने में हिचक रहे हैं कि ऊंट किस करवट बैठेगा। वहीं तीनों पार्टियों के दिग्गज नेताओं की मुलाकात में भी शुक्रवार को खत्म नहीं हो सकी। शिवसेना (Shiv Sena), कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (Ncp) की महा बैठक के बाद एनसीपी चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) ने

SONIA-UDDHAV-PAWAR

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई (22 नवंबर): महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन को लेकर करीब एक महीने से उठा-पठक का दौर जारी है। नेताओं की मुलाकात और बैठकों के दौर को देखते हुए राजनीतिक पंडित भी कहने में हिचक रहे हैं कि ऊंट किस करवट बैठेगा। वहीं तीनों पार्टियों के दिग्गज नेताओं की मुलाकात में भी शुक्रवार को खत्म नहीं हो सकी। शिवसेना (Shiv Sena), कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (Ncp) की महा बैठक के बाद एनसीपी चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) ने यह जरूर कहा कि तीनों पार्टियां उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को सीएम बनाने पर सहमत हैं। उन्होंने कहा कि शनिवार को साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर तीनों पार्टियां औपचारिक ऐलान करेंगी। हालांकि कुछ देर बाद जब बैठक से कांग्रेस और एनसीपी के नेता बाहर निकलने लगे तो माहौल कुछ बदला-बदला सा लगा।वहीं शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि सरकार बनाने को लेकर बातचीत जारी है, लेकिन उससे पहले सभी मामलों को लेकर बात जरूरी है। इसके तुरंत बाद कांग्रेस और एनसीपी ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की इस दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पृथ्वीराज चव्हाण नेक ने कहा कि आज एनसीपी कांग्रेस और शिवसेना में सरकार बनाने को लेकर चर्चा हुई, चर्चा सकारात्मक रही। आगे पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि आगे भी बातचीत जारी रहेगी। 

Shiv Sena-NCP-Congress

इससे पहले का घटना क्रम...

महाराष्ट्र में सीएम की कुर्सी को लेकर चल रही तीनों राजनीतिक दलों की बैठख खत्म हो गई है। बैठक खत्म होने के बाद बाहर निकले एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कहा, सरकार बनाने को लेकर उद्धव के नाम पर सहमति बन गई है। पवार ने कहा कि शनिवार को राज्यपाल से मिलने का समय भी तय करेंगे। वहीं उद्धव ठाकरे ने कहा है सरकार बनाने से पहले सभी मुद्दों पर सहमति होना जरूरी है।

- शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की बैठक नेहरू सेंटर में चल रही है। सूत्र बता रहे हैं कि बैठक में सरकार गठन को लेकर कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। एनसीपी और कांग्रेस शिवसेना को समर्थन पत्र भी सौंप सकती है। 

- महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर राजनीतिक दलों में पाथा-पच्ची जारी है। थोड़ी देर बाद एक बार फिर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की बैठक होगी।वहीं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सीएम बनने से इनकार कर दिया है।

- सुबह से चल रही शिवसेना की बैठक अब खत्म हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक बैठक में उद्धव ठाकरे ने विधायकों से कहा है कि बीजेपी ने हमसे झूठ बोला। इसलिए हमने 25 साल पुराना गठबंधन तोड़ दिया। इसके साथ ही उद्वव ठाकरे  ने कहा कि वो मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहते हैं। उन्होंने बाल ठाकरे को वचन दिया था कि वो मुख्यमंत्री पद पर किसी शिवसैनिक को बैठाएंगे। ये कुर्सी उन्होंने अपने लिए नहीं मांगी।

- शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री, संजय राउत बोले- जनता चाहती है कि उद्धव ठाकरे बनें मुख्यमंत्री

Sanjay Raut

- शनिवार को राजधानी दिल्ली में होने वाली राज्यपालों की कॉन्फ्रेंस में महाराष्ट्र के गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी नहीं आएंगे। राज्य में तेज होती राजनीतिक हलचल को देखते हुए उन्होंने मुंबई में ही रहने का विचार किया है।

- शिवसेना (Shiv Sena) नेता संजय राउत ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि कभी-कभी कुछ रिश्तों से बाहर आ जाना ही अच्छा है, अहंकार के लिए नहीं स्वाभिमान के लिए।

- अब से थोड़ी देर बाद मातोश्री में शिवसेना (Shiv Sena) विधायकों की बैठक

- शिवसेना (Shiv Sena) विधायकों को संबोधित कर सकते हैं उद्धव ठाकरे

- उसके ठीक आधे घंटे बाद एनसीपी (NCP) की बैठक

- फिर शाम को 4 बजे तीनों पार्टियों की साझा बैठक होगी

- शिवसेना (Shiv Sena) के साथ एनसीपी-कांग्रेस (NCP-Congress) की बैठक, मंत्रालयों को लेकर होगी चर्चा 

- शाम तक सरकार बनाने का दावा पेश किया जा सकता है

- देर रात शरद पवार से मिलने पहुंचे शिवसेना प्रमुख।

 

bhagat singh koshyari

इन सबके बीच जानकारी मिल रही है कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी 22 और 23 नवंबर को राष्ट्रपति भवन में होनेवाले एक कार्यक्रम में भाग लेने दिल्ली जाने वाले हैं। वह 24 नवंबर को मुंबई लौटेंगे। तभी तीनों पार्टियों के नेता उनके पास सरकार गठन का दावा पेश करने राजभवन जाएंगे। उसके बाद राज्यपाल राष्ट्रपति को इस बारे में बताएंगे। राष्ट्रपति राज्यपाल का प्रस्ताव कैबिनेट को भेजेंगे। उसके बाद राज्य में राष्ट्रपति शासन को समाप्त करने पर फैसला होगा और राज्यपाल नए गठबंधन के नेता को सरकार बनाने का न्योता देंगे। 

सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक गुरुवार को हुई बैठक में एनसीपी  (NCP) प्रमुख शरद पवार ने शिवसेना (Shiv Sena) चीफ उद्धव ठाकरे को समझाने की कोशिश की कि उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में उतरना चाहिए। बैठक में मौजूद रहे शिवसेना सांसद संजय राउत और आदित्य ठाकरे ने भी उद्धव को सीएम पद संभालने के लिए कहा। वहीं, कांग्रेस (Congress) और शिवसेना  (Shiv Sena) को डर है कि कहीं महाराष्ट्र (Maharashtra)  में भी जम्मू और कश्मीर जैसी स्थिति ना हो जाए। क्योंकि जब महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला साथ आने की कोशिश कर रहे थे तो राज्यपाल ने विधानसभा भंग कर दी थी।

(Image Credit: Google)

Tags :

NEXT STORY
Top