फिरंगियों के साथ न्यूड पार्टी करते थे महाराजा पटियाला !

नई दिल्ली (12 अक्टूबर): पटियाला रियासत के महाराजा भूपिंदर सिंह अपनी रंगीनमिजाजी के लिए मशहूर थे। इनकी रंगीनमिजाजी के किस्सों का जिक्र महाराजा भूपिंदर सिंह के दीवान जरमनी दास ने अपनी किताब 'महाराजा' में किया है। 

- महाराजा भूपिंदर सिंह ने पटियाला में 'लीला-भवन' या रंगरलियों का महल बनवाया था, जहां केवल निर्वस्त्र लोगों को ही प्रवेश मिलता था।

- महाराजा के लिए महल का एक खा़स कमरा रिजर्व था। कमरे की दीवारों पर चारों ओर सैकड़ों तरह के आसनों मे प्रेम-प्रलाप में डूबे महिला-पुरुषों को चित्रित किया गया है।  - फर्श पर कीमती जवाहरात से जड़े मोटे-मोटे क़ालीन बिछे हैं साथ ही महाराजा के भोग-विलास का पूरा साजो-सामान भी मौजूद है। 

- महल के बाहर एक 'स्विमिंग पूल'भी बनवाया हुआ है। जिसमें कम से कम 150 स्त्री-पुरुष एक साथ स्नान कर सकते थे। यहां खुलेआम पार्टियों में रंगरलियां चलती थी।  - पार्टियों में महाराजा अपनी प्रेमिकाओं को बुलाते थे। वे महाराजा और उनके ख़ास मेहमानों के साथ तालाब में नहाती थीं।

- इन पार्टियों में राज्य के अंग्रेज अधिकारी और उनकी पत्नियां साथ ही देसी महिलाएं भी भाग लेती थीं। 

- दीवान जरमनी दास ने महाराजा, महारानी नामक बेस्ट सेलर बुक्स लिखी हैं जिसमें उन्होंने खुल कर बताया कि इस अवसर पर क्या-क्या होता था। 

- ऐसी पार्टियों में ‌कुछ खास मौकों पर सिर्फ़ यूरोपियन या अमरीकन लेडी, जो उन दिनों महाराजा के मोती बाग पैलेस में मेहमान की हैसियत से ठहरी होती थी को ही शरीक किया जाता था।