Blog single photo

कमलनाथ सरकार ने एमपी में निवेश करने वाले इन्वेस्टर्स के लिए बिछाया रेड कार्पेट

मध्यप्रदेश में निवेश करने वाले देश विदेश के निवेशकों के लिए रेड कार्पेट बिछाने का प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने भरोसा दिया है। इंदौर में आयोजित किये गए इन्वेस्टर्स समिट मैग्नीफिसिएंट एमपी को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि, हम कारोबार के नियमों को सरल बना रहे है

मनीष कुमार/गौरव शर्मा, न्यूज 24 ब्यूरो, इंदौर (18 अक्टूबर): मध्यप्रदेश में निवेश करने वाले देश विदेश के निवेशकों के लिए रेड कार्पेट बिछाने का प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने भरोसा दिया है। इंदौर में आयोजित किये गए इन्वेस्टर्स समिट मैग्नीफिसिएंट एमपी को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि, हम कारोबार के नियमों को सरल बना रहे है। हम गवर्नेन्स में रिफॉर्म कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने समिट में शिरकत करने आये उद्योगपतियों से कहा कि, 'मध्यप्रदेश में निवेश करने का इससे बेहतर समय नहीं है।'

समिट को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इन्वेस्टर्स से कहा कि मध्यप्रदेश सरकार लैंड पूलिंग पालिसी बनाने वाला देश का पहला राज्य है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश को वे पर्यटन हब बनाना चाहते हैं। क्योंकि यहां पर्यटन सेक्टर में अपार संभावनाएं हैं। मैग्नीफिसिएंट एमपी इवेंट को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि, ऐसा इवेंट निवेश को आकर्षित करने के लिए किया जाता है फिर सरकारें भूल जाती हैं पर उनकी सरकार ऐसा नहीं करने वाली।  मुख्यमंत्री ने इंडस्ट्री के कैप्टनों से अपनी जरूरतें बताने को कहा और सरकार सब कुछ करने को तैयार है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार कुछ भी नया करने से नहीं डरती। 

इन्वेस्टर्स समिट मैग्नीफिसिएंट एमपी को रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने भी रिकार्डेड वीडियो मैसेज के जरिये संबोधित किया। मुकेश अंबानी ने कहा कि, मध्यप्रदेश ना केवल भारत के मध्य में बल्कि भारत के मन मे विराजमान है। उन्होंने बताया कि रिलायंस प्रदेश में सबसे बड़ा निवेशक है। 20,000 करोड़ रुपये रिलायंस ने निवेश किया है। उन्होंने कहा कि, जियो मध्यप्रदेश को डिजिटल सोसाइटी बनाने में बड़ी भूमिका निभा रहा है। रिलायंस इंडस्ट्रीज मध्यप्रदेश में अपने पेट्रोल पंप की संख्या को दोगुनी करेगी साथ ही प्रदेश में कई रिटेल स्टोर्स भी खोलेगी जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार मिल सके। 

आईटीसी चेयरमैन संजीव पूरी ने मैग्नीफिसिएंट एमपी को संबोधित करते हुए कहा कि आईटीसी फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री में 700 करोड़ रुपये राज्य में निवेश करने जा रहा है। ट्राइडेंट ग्रुप के चेयरमैन राजिंदर गुप्ता ने कहा कि अगले 24 महीनों में टेक्सटाईल क्षेत्र में ट्राइडेंट ग्रुप करीब 3000 करोड़ रुपये का निवेश करने जा रहे है। इनके अलावा गोदरेज इंडस्ट्रीज के आदि गोदरेज, भारती इंटरप्राइजेज के वाईस चेयरमैन राकेश भारती मित्तल, सन फार्मा के दिलीप सांघवी और इंडिया सीमेंट्स के एन श्रीनिवासन ने भी संबोधित किया। 

मध्यप्रदेश के मुख्य सचिव सुधीरंजन मोहंती ने निवेशकों को बताया कि मध्यप्रदेश देश के 50 फीसदी जनसंख्या को छूता है। लोगिस्टिक और वेयरहाउसिंग के लिए मध्यप्रदेश से बेहतर माकूल जगह कोई नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सरकार हर सेक्टर के लिए अलग नियम बना रही है। साथ ही राज्य को मैन्युफैक्चरिंग हब बनाना चाहती है। जिसमे ऑटो हब भी शामिल है। 

मेग्नीफीसेंट एमपी इन्वेस्टर्स समिट में प्रदेश सरकार को 74000 करोड़ रुपये से 92 प्रस्ताव मिले हैं। कमलनाथ सरकार को सत्ता में आये करीब एक साल पूरे होने को है तो सरकार का पूरा फोकस प्रदेश में औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने और रोजगार के नए अवसर पैदा करने पर है।

Tags :

NEXT STORY
Top